इस्लामाबाद :पाकिस्तान और अफगानिस्तान के वरिष्ठ सैन्य और खुफिया अधिकारी क्षेत्र में स्थायी शांति सुनिश्चित करने के लिए कोशिशों को बढ़ाने पर सहमत हुए हैं. रावलपिंडी में पाकिस्तानी सेना के मुख्यालय में रविवार को हुई वार्ता में दोनों पक्ष इस सहमति पर पहुंचे.आतंकवादियों को पनाह नहीं देने को लेकर पाकिस्तान-अफगानिस्तान के बीच बनी सहमति

अफगान शिष्टमंडल की अगुवाई राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हनीफ अतमर कर रहे थे और इसमें खुफिया विभाग के प्रमुख तथा अन्य अधिकारी शामिल थे. बता दे कि अफगानिस्तान में हमलों के जिम्मेदार आतंकवादियों को पनाह नहीं देने को लेकर काबुल लगातार पाकिस्तान पर दबाव बना रहा है. हालांकि, पाकिस्तान इस आरोप से इनकार करता है.

सोमवार सुबह सेना की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि पाकिस्तान के थलसेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने शिष्टमंडल से कहा कि हमें भरोसे की शुरूआत करनी चाहिए और एक दूसरे की एक इंच जमीन की भी लालसा नहीं रखनी चाहिए और न ही अपनी जमीन का इस्तेमाल एक दूसरे के खिलाफ करने देना चाहिए. अफगानिस्तान में हमलों के जिम्मेदार आतंकवादियों को पनाह नहीं देने को लेकर काबुल लगातार पाकिस्तान पर दबाव बना रहा है. लेकिन पाकिस्तान ऐसे सभी आरोपों से हमेशा इनकार करता आ रहा है.