CM योगी ने उठाया एक और सख्त कदम, अब जमातीयो के झूट बोलने पर मिलेगी कड़ी सजा

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने की खातिर अपनी टीम-11 के साथ मैदान में डटे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भरोसा है कि भारत इस महामारी से जंग जीतेगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक निजी न्यूज चैनल के साथ अपनी वरीयता के साथ कोरोना वायरस से बचाव पर अपनी सरकार की योजना पर विस्तार से चर्चा की।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम कई देशों के मुकाबले बेहतर स्थिति में हैं, लेकिन हमें अभी भी और सतर्क रहने की जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचने के लिए हम व्यापक कार्ययोजना बना रहे हैं। पीएम नरेंद्र मोदी के निर्देश पर देश में लंबे लॉकडाउन से सभी को बड़ी राहत मिली है। हमने भी अफसरों की टीम के साथ मंत्रियों का समूह गठित किया है। कोरोना से निपटने के लिए हम लोग रोज एक-एक आगे बढ़ रहे हैं। हम क्रमबद्ध तरीके से कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए काम कर रहे हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस नेचर के साथ अपना स्वरूप भी बदलता है। ऐसे में हमें पूरी तरह से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ लोंगो को जागरुक करने से ही सफलता मिलेगी। यूपी में जिस तरह से आबादी है, ऐसे में कोरोना से निपटने का काम हमारे लिए चुनौतीपूर्ण है, लेकिन हम पूरी तरह से प्रदेश को कोरोना से मुक्त करेंगे। प्रदेश में तो स्थिति काफी नियंत्रण में आ गई थी, इसी बीच दिल्ली से पहुंचे तब्लीगी जमात के लोगों ने यहां का माहौल खराब कर दिया। बिना किसी सूचना के यह लोग घनी आबादी में घुस गए और फिर संक्रमण ने गति पकड़ ली। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह तो तय है कि सच छुपाने वाले किसी भी जमाती को छोड़ा नहीं जाएगा। सभी के खिलाफ एक्शन तय है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जमातियों ने कोरोना वायरस संक्रमण को झुपाया है। यह जानबूझकर किया गया कृत्य हैं, जोकि अक्षम्य अपराध हैं। अगर इन्होंने यह काम न किया होता तो आज कम से कम कोरोना केस होते।

सीएम योगी ने यह भी कहा कि हम इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई जरूर करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोरोना फैलाने के लिए तब्लीगी जमात के लोगों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि जमातियों ने बीमारी को छुपाया। संक्रमण से फैलने वाली बीमारी को छुपाकर आप उसको जगह-जगह फैलाएं, हमको तो यह स्वीकार्य नहीं है। मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि तब्लीगी के इस रवैये के कारण संक्रमण बहुत तेजी से फैला। यूपी में 3000 से ज्यादा जमातियों ने कई जगह जाकर ऐसा किया। आज हमारे पास लगभग दो ऐक्टिव केस हैं, इसमें डेढ़ हजार से ज्यादा तबलीगी से जुड़े लोग हैं। हमारी पुलिस ने उन्हेंं पकड़कर क्वारंटीन किया। फिर अस्पताल में गए ,वहां फैलाया और आज यह स्थिति है। अगर समय रहते इन्होंने अपील पर ध्यान दिया होता तो यह हालत नहीं होती। सबसे पहले तो पॉजिटिव महसूस कर रहे व्यक्ति को खुद ही सामने आना चाहिए।  देश के अंदर जिन राज्यों में ज्यादा पैमाने पर मामले आए वहां इनकी भूमिका बहुत थी। विदेश से आए, टूरिस्ट वीजा लिया और घूमने लगे। सामान्य व्यक्ति मानता है कि टूरिस्ट है तो ठीक होगा लेकिन गांव-गांव, घर-घर जाकर संक्रमण फैलाएं तो यह ठीक बात नहीं थी। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button