‘पानी पिलाने’ और ‘जूते खाने’ वाले ने चमकाई चेन्नई की किस्मत

- in खेल

नई दिल्ली. IPL के पहले क्वालिफायर में चेन्नई सुपरकिंग्स की जीत के सूत्रधार रहे फैफ डूप्लेसिस. वानखेड़े की पट्टी पर जहां एक छोर से सुपरकिंग्स के पांव उखड़ रहे थे वहीं दूसरे छोर पर डूप्लेसिस ने उसे ऐसे जमा रखा था कि IPL की बेस्ट मानी जाने वाली बॉलिंग लाइनअप के लिए उन्हें डिगा पाना नामुमकिन हो रहा था. डूप्लेसिस ने सनराइजर्स के खिलाफ क्वालिफायर मुकाबले में 42 गेंदों पर नाबाद 67 रन बनाए और टीम को जीत दिलाकर दम लिया.'पानी पिलाने' और 'जूते खाने' वाले ने चमकाई चेन्नई की किस्मत

सनराइजर्स के खिलाफ शानदार जीत के जरिए चेन्नई को फाइनल का टिकट दिलाकर उसकी किस्मत चमकाने वाले फैफ डूप्लेसिस के लिए ये पहला मौका है जब वो अपनी बल्लेबाजी की वजह से सुर्खियों में आए हैं. इससे पहले IPL-11 में वो एक और बार सुर्खियों में तब आए थे जब चेपक पर KKR के खिलाफ मैच में उन पर कुछ लोगों ने जूते फेंके थे या फिर इसी मुकाबले के दौरान टीम के 12वें खिलाड़ी के तौर पर पानी पिलाने की उनकी एक तस्वीर तेजी से वायरल हुई थी.

सनराइजर्स के खिलाफ क्वालिफायर मुकाबला IPL-11 में डूप्लेसिस का 5वां मुकाबला था. इससे पहले खेले 4 मैचों में उनका स्कोर 100 रन भी नहीं था. उन मुकाबलों में वो पूरी तरह आउट ऑफ फॉर्म दिखे थे. लेकिन लगता है कि उन्होंने अपना फॉर्म और बेस्ट दोनों ही चेन्नई को फाइनल का टिकट दिलाने के लिए बचाकर रखा था. लिहाजा, उन्होंने IPL के इस सीजन की अपनी सबसे बेशकीमती पारी खेलते हुए सारी भरपाई कर दी.

धोनी ने पढ़े कसीदे

पहले क्वालिफायर में डूप्लेसिस की इस इनिंग की धोनी ने भी खूब तारीफ की. धोनी ने कहा, ” फैफ ने जो कर दिखाया उसे तजुर्बा कहते हैं. ऐसी पारी खेलना आसान नहीं होता वो भी तब जब टूर्नामेंट में किसी ने ज्यादा मुकाबले न खेले हों. लेकिन, फिर भी हमें मानसिक तौर पर तैयार रहना होता है और ऐसी पारी खेलने की मानसिक मजबूती अनुभव से ही मिलती है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान का मानना, करियर खत्म होने पर ही कोहली की सचिन से हो तुलना

क्रिकेट के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और विराट