पहले क्वालिफायर में डूप्लेसिस की इस इनिंग की धोनी ने भी खूब तारीफ की. धोनी ने कहा, ” फैफ ने जो कर दिखाया उसे तजुर्बा कहते हैं. ऐसी पारी खेलना आसान नहीं होता वो भी तब जब टूर्नामेंट में किसी ने ज्यादा मुकाबले न खेले हों. लेकिन, फिर भी हमें मानसिक तौर पर तैयार रहना होता है और ऐसी पारी खेलने की मानसिक मजबूती अनुभव से ही मिलती है.”