पंजाब में भी कर्नाटक में मिली जीत का मनाया गया जश्न, मोदी के विकास एजेंडे को दिया श्रेय

चंडीगढ़। केंद्रीय राज्य मंत्री व पंजाब भाजपा के पूर्व अध्यक्ष विजय सांपला, राष्ट्रीय उप प्रधान अविनाश राय खन्ना, पूर्व मंत्री हरजीत सिंह ग्रेवाल, चंडीगढ़ की सांसद किरन खैर, पूर्व सचिव विनीत जोशी ने कर्नाटक में भाजपा को मिले समर्थन पर खुशी जताई। नेताओं ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास के एजेंडे को लोगों का समर्थन बताया।पंजाब में भी कर्नाटक में मिली जीत का मनाया गया जश्न, मोदी के विकास एजेंडे को दिया श्रेय

भाजपा नेताओं ने कहा कि राष्ट्रीय प्रधान अमित शाह के संगठन कौशल ने भी जीत में बड़ी भूमिका निभाई है। भाजपा को कर्नाटक से मिली जीत से स्पष्ट हो गया है कि भारतवासी देश में विकास चाहते हैं और अपने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विकास योजनाओं में उनके साथ खड़े हैं।

वहीं, हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने कर्नाटक में भाजपा की जीत पर खुशी जताई। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कांग्रेस मुक्‍त भारत मिशन सफल हाे रहा है। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस का भला नहीं हो सकता। राहुल को भविष्‍य में कभी भी प्रधानमंत्री बनने का सपना छोड़ देना चाहिए।

मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल विदेश दौरे से मंगलवार को लौटे। उन्‍होंने कर्नाटक में भाजपा की जीत पर यहां जश्‍न मनाया। उन्‍होंने कहा कि भाजपा की यह जीत बहुत खास है। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कांग्रेस मुक्त भारत मिशन का परिणाम है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस कभी राहुल गांधी आगे नहीं बढ़ सकती। राहुल गांधी ने जिस तरह प्रधानमंत्री बनने की इच्छा व्यक्त की थी, आज के परिणामों को देखने के बाद उन्हें 2019 में ही नहीं, 2024 में भी प्रधानमंत्री बनने की इच्छा छोड़ देनी चाहिए। गठबंधन का युग समाप्त हो चुका है।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि सीएम ने कहा कि 1996 के बाद से बीजेपी लगातार आगे बढ़ती गई। आज देश की 70 प्रतिशत क्षेत्र में भाजपा और उसकी सहयोगी पार्टियों का शासन है। कांग्रेस आज केवल 2.5 प्रतिशत आबादी पर राज करने वाली पार्टी रह गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की अाज जैसी हालत है एेसर कभी नहीं रही।

=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अखिलेश ने मेधावियों को लैपटॉप देकर किया सम्मानित

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश