CBSE चीफ बोलीं- छात्रों के भले के लिए लिया गया है दोबारा परीक्षा का फैसला

- in करियर

सीबीएसई चीफ अनीता करवाल ने पेपर लीक पर पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी है. आज जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि 16 लाख बच्चों के भविष्य का क्या होगा? इस पर उन्होंने कहा कि हम बच्चों के भले के लिए ही काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हम लोगों ने बच्चों की भलाई के लिए फैसला लिया है. बहुत जल्द दोबारा होने वाली परीक्षा की तारीख का ऐलान कर दिया जाएगा.

इधर पेपर लीक मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच ने आज कई लोगों से इस मामले में पूछताछ की.  दिल्ली के स्पेशल सीपी आरपी उपाध्याय ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस मामले में नए खुलासे के बारे में मीडिया को बताया. आरपी उपाध्याय ने बताया कि सीबीएसई के रीजनल डायरेक्टर की शिकायत पर 2 केस दर्ज किए गए हैं. 27 मार्च को पहला केस दर्ज हुआ. 28 मार्च को दूसरा केस दर्ज किया गया. क्राइम ब्रांच के आलोक कुमार इस जांच को लीड कर रहे हैं. 25 लोगों से अब तक पूछताछ हुई हे. 18 छात्रों से भी पूछताछ हुई है, जिसमें 5 पहले ईयर के छात्र हैं. साथ 5 ट्यूटर्स हैं. पेपर परीक्षा होने से बहुत पहले लीक हो चुका था. आरपी उपाध्याय ने बताया कि हम जांच द्वारा पेपर लीक करने वाले शख्स तक पहुंचाना चाह रहे हैं. आरपी उपाध्यााय ने बताया कि अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.

You may also like

नही मिलेगा दोबारा नौकरी का ऐसा मौका, इस तिथि से पहले करें आवेदन

राष्ट्रीय एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड, कोरापुट द्वारा कार्यकारी के रिक्त