रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया सब इंजीनियर

भ्रष्ट अधिकारियों पर लोकायुक्त का शिकंजा जारी है। इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने खरगोन में कार्रवाई करते हुए एक भ्रष्ट इंजीनियर को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा।रिश्वत

लोकायुक्त एसपी दिलीप सोनी ने बताया कि खरगोन ज़िले में मध्य प्रदेश कृषि विपणन बोर्ड की तकनीकी शाखा में पदस्थ उपयंत्री नरेंद्र बागडरे को 50 हज़ार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया। ये इंजीनियर सिविल कार्यों के बिलों को क्लियर करने के एवज में रिश्वत मांग रहा था।

भूलकर नोट पर यह न लिखे कुछ भी वरना हो जाएगी अवैध

दरअसल रितेश पाटीदार नामक ठेकेदार मंडलेश्वर एवं बबलायी मंडियों में सिविल कार्य कर रहा है। इसका करीब 18 लाख रूपये का बिल बना है। बिल को लेकर रितेश कई बार चक्कर काट चुका है लेकिन कृषि विपणन बोर्ड की तकनीकी शाखा में पदस्थ उपयंत्री नरेंद्र बागडरे मामले को लटकाए हुए था। इसे लेकर जब रितेश उपयंत्री से मिला तो उसने बिल पास करने के एवज में रूपयों की मांग की।

इस पर रितेश ने लोकायुक्त में शिकायत दर्ज कराई। लोकायुक्त पुलिस इंदौर द्वारा आरोपी को उसके कार्यालय के बाहर रूपयों के साथ रंगे हाथों पकड़ा। ये पूरी कार्रवाई निरीक्षक आशा शेजकर एवं निरीक्षक महेश सुनाइया की अगुवाई में की गई।

Facebook Comments

You may also like

PNB घोटाला: बैंक ने 18 हजार कर्मचारियों का किया तबादला

पंजाब नेशनल बैंक में 11300 करोड़ रुपये का