बालिका गृह हिंसा मामले में जेल में शिफ्ट हुआ आरोपित ब्रजेश, ऐसे गुजारी पहली रात

- in बिहार, राज्य

पटना। बालिका गृह दुष्कर्म कांड में सेंट्रल जेल में बंद मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर को मंगलवार को उच्च सुरक्षा वार्ड में शिफ्ट करा दिया गया। जेल अधीक्षक राजीव कुमार झा ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि जेल के चिकित्सकों की रिपोर्ट के आधार पर ब्रजेश को शिफ्ट किया गया है। चिकित्सकों ने रिपोर्ट दी कि ब्रजेश का बीपी व शुगर कंट्रोल में है। बताया जाता है कि मेडिकल वार्ड से जेल के वार्ड में आने के बाद उसकी पहली रात मच्‍छारों संग कष्‍ट में बीती। जेल में उसपर खतरा को देखते हुए उसकी सुरक्षा भी कड़ी कर दी गई है।

बालिका गृह हिंसा मामले में जेल में शिफ्ट हुआ आरोपित ब्रजेश, ऐसे गुजारी पहली रात

चिकित्‍सकों की रिपोर्ट के आधार पर हुई कार्रवाई

बता दें कि चार दिन पूर्व सीबीआइ की टीम जेल पहुंचकर ब्रजेश की स्वास्थ्य जांच से संबंधित रिपोर्ट तलब की थी। उधर, जेल प्रशासन ने भी सिविल सर्जन को बोर्ड गठित कर चिकित्सकों से ब्रजेश के स्वास्थ्य जांच कराने का आग्रह किया था। इसके बाद चिकित्सकों की रिपोर्ट के आधार पर अस्पताल वार्ड से उसे हटा दिया गया। उसकी मेडिकल रिपोर्ट में ऐसी किसी बीमारी की चर्चा नहीं है, जिसके कारण उसे जेल के अस्पताल में रखना पड़े। उधर, सीबीआइ ब्रजेश ठाकुर के वार्ड में लौटते ही उसे रिमांड में लेने की तैयारी में है।

अभी तक केवल पांच दिन रहा जेल बैरक में

बता दें कि विगत 2 जून को अपनी गिरफ्तारी के बाद से ब्रजेश ठाकुर महज पांच दिनों तक ही अपने वार्ड में रहा है। उसके बाद उसे श्रीकृष्‍ण सिंह मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (एसकेएमसीएच) स्थानांतरित कर दिया गया था। एसकेएमसीएच में करीब 20 दिनों तक रहने के बाद जब उसे वापस जेल भेजे जाने के बाद वह 27 जून से जेल के अस्पताल में रह रहा था।

अब रिमांड पर लेगी सीबीआइ

ब्रजेश के स्‍वास्‍थ्‍य को ठीक पाए जाने के बाद अब सीबीआइ उसे पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है। सीबीआइ एक-दो दिनों में विशेष अदालत से उसे पुलिस रिमांड पर लेने का आग्रह कर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कांग्रेस का दलित-सवर्ण कार्ड में नहीं विश्वास : मदन मोहन

पटना। तकरीबन 11 महीने के लंबे अंतराल के बाद