उत्तराखंड: थराली उपचुनाव में रहेगी भाजपा के स्टार प्रचारकों की फौज

देहरादून: प्रदेश में थराली विधानसभा सीट भले ही बेहद छोटी हो लेकिन भाजपा इस सीट के लिए होने वाले उपचुनाव को लेकर कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती। यही कारण है कि उपचुनाव के लिए घोषित स्टार प्रचारकों की सूची में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से लेकर तमाम केंद्रीय पदाधिकारी, केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, चार पूर्व मुख्यमंत्रियों व प्रदेश अध्यक्ष को शामिल किया गया है। उत्तराखंड: थराली उपचुनाव में रहेगी भाजपा के स्टार प्रचारकों की फौज

स्टार प्रचारकों में उत्तराखंड सरकार की पूरी कैबिनेट के अलावा नौ विधायकों के नाम भी शामिल हैं। थराली विधानसभा उपचुनाव भाजपा के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। जिस तरह प्रत्याशी घोषित होने के बाद पार्टी में बगावत के सुर फूटे, उससे भाजपा को झटका लगा है। इसकी भरपाई अब इस चुनाव में स्टार प्रचारकों की फौज उतारकर पूरी की जा रही है। 

भाजपा मुख्यालय की ओर से जारी स्टार प्रचारकों की सूची में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अलावा भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन रामलाल, राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, राष्ट्रीय सचिव तीरथ सिंह रावत, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलौत, स्मृति ईरानी, अजय टम्टा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी, प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, पूर्व मुख्यमंत्री व सांसद भुवन चंद्र खंडूडी, भगत सिंह कोश्यारी, रमेश पोखरियाल निशंक, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह व अनिल बलूनी के नाम शामिल हैं। 

अन्य स्टार प्रचारकों में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, प्रकाश पंत, हरक सिंह रावत, मदन कौशिक, यशपाल आर्य, अरविंद पांडे, धनसिंह रावत, रेखा आर्य, विधायक व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बिशन सिंह चुफाल समेत नौ विधायक व प्रदेश संगठन के पदाधिकारी शामिल हैं। भाजपा मुख्यालय की ओर से जारी सूची में कुल मिलाकर 40 स्टार प्रचारकों के नाम घोषित किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जम्मू-कश्मीर में भाजपा-पीडीपी गठबंधन से फिर बन सकती है सरकार

जम्मू-कश्मीर में भाजपा-पीडीपी गठबंधन सरकार बनाने की संभावनाएं