भाजपा 2 सीट जीतने पर सरकार बनाने की रेस में, मुलाकात का दौर जारी

मेघालय में भाजपा को बेशक दो सीटें मिली हैं लेकिन वह सरकार बनाने की रेस में शामिल है। पूर्वोत्तर के इस राज्य में कांग्रेस को 21 सीटें मिली हैं और उसने सरकार बनाने का दावा राज्यपाल को सौंप दिया है। जहां कांग्रेस इस राज्य में गोवा और मणिपुर वाली गलती को दोहराना नहीं चाहती है वहीं भाजपा ने भी जोड़-तोड़ की राजनीति करनी शुरू कर दी है। इसी बीच बाघमरा सीट से जीते निर्दलीय विधायक सैमुअल एम संगमा ने भाजपा के हेमंत बिस्वा सरमा से मुलाकात की है। उन्होंने पार्टी को अपना समर्थन देने की इच्छा जाहिर की है। 

भाजपा 2 सीट जीतने पर सरकार बनाने की रेस में, मुलाकात का दौर जारी

मेघालय में सरकार बनाने के लिए भाजपा लगातार नेशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी) से संपर्क कर रही है क्योंकि कांग्रेस के बाद इस पार्टी के खाते में 19 सीटे आई हैं। वहीं एनपीपी के अलावा भाजपा क्षेत्रीय पार्टियों सहित निर्दलीय विधायकों से भी बातचीत करने की कोशिश में है। बीजेपी सूत्रों ने दावा किया है कि उसकी पहल पर एनपीपी और दूसरे सहयोगी दलों और 1 निर्दलीय को मिलाकर 34 विधायकों का समर्थन हासिल कर लिया गया है। राज्य में सरकार बनाने के लिए 31 विधायकों का समर्थन चाहिए। अगर भाजपा को राज्य में दूसरी पार्टियों का समर्थन मिल जाता है तो वह यहां सरकार बना सकती है।

युवाओ के लिए PM मोदी का नया मंत्र-युवा देवो भव: -युवाशक्ति देवो भव

मेघालय में कल रात कांग्रेस के राज्य प्रभारी विंसेंट पाला और कांग्रेस के महासचिव सीपी जोशी ने राज्यपाल गंगा प्रसाद से मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा पेश किया। सरकार बनाने की कवायद में जुटी कांग्रेस अपने विधायकों के मन को भी टटोल रही है। इसी कड़ी में पार्टी ने उन विधायकों की एक मीटिंग बुलाई थी जिन्होंने इस चुनाव में जीत हासिल की है। पार्टी ने आज 11 बजे विधायकों के साथ बैठक की। बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और कमलनाथ मेघालय में ही मौजूद हैं।

You may also like

विजय माल्या को क़र्ज़ देने वाली बैंकों पर सख्त हुई CBI, गारंटी से अधिक क़र्ज़ देने का लगाया आरोप

नई दिल्ली: सीबीआई ने दावा किया है कि विजय