बिहार विधान मंडल का मानसून सत्र कल से शुरू, इन मुद्दों पर होगा हंगामा

पटना। बिहार विधानमंडल का मानसून सत्र शुक्रवार से शुरू हो रहा है। इसके सुचारु संचालन के लिए बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष और विधान परिषद के सभापति की अध्यक्षता में अलग अलग सर्वदलीय बैठकें हुईं। इस बीच सत्र के हंगामेदार रहने के पूरे आसार हैं। विपक्ष कानून व्‍यवस्‍था, सूखा और शराबबंदी कानून में संशोधन आदि के मुद्दों पर सरकार को घेरने जा रहा है तो सत्ता पक्ष ने भी इन हमलों का जवाब देने के लिए कमर कस ली है।बिहार विधान मंडल का मानसून सत्र कल से शुरू, इन मुद्दों पर होगा हंगामा

अपने मुद्दे जोर-शोर से उठाएगा विपक्ष

शुक्रवार से बिहार विधानमंडल का मानसून सत्र है। इसे लेकर विधानसभा व विधान परिषद की सर्वदलीय बैठकें क्रमश: विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी व विधान परिषद के उपसभापति हारुन रशीद की अध्यक्षता में हुईं। बैठकों में विधानमंडल सत्र के सुचारू संचालन पर बल दिया गया। लेकिन, सत्र में हंगामा तय है। सर्वदलीय बैठक में राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि वे अपनी बात जोर-शोर से उठाएंगे।

इन मुद्दों पर सरकार को घरेगा विपक्ष

मानसून सत्र में विपक्ष ने सरकार को घेरने की पूरी तैयारी की है। इस बाबत राजद के भाई वीरेंद्र ने कहा कि कानून व्‍यवस्‍था का मुद्दा सबसे बड़ा है। विरोध के और भी कई मुद्दे हैं। विपक्ष ने सरकार पर सूखे की आशंका को लेकर समय रहते तैयारी नहीं करने का आरोप लगाया है। विपक्ष राज्‍य को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग रखेगा। विपक्ष नीतीश कुमार की सरकार को शराबबंदी कानून में संशोधन के बहाने भी घेरेगा।

उधर, सत्‍ताधारी राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के नेताओं ने स्‍पष्‍ट किया है कि विपक्ष के सवालों के जवाब सरकार सदन में देगी। लेकिन, सवाल यह है कि विपक्ष सदन में सरकार का जवाब सुनेगा या सदन की कार्रवाही बाधित कर देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों