बड़ी खबर: RBI का बड़ा खुलासा, हर 4 घंटे में बैंक का एक कर्मचारी करता है ‘घोटाला’

पीएनबी बैंक घोटाले के बीच एक और सनसनीखेज मामला सामना आया है. आरबीआई ने अपनी रिपोर्ट में खुद खुलासा किया है कि बैंक के कर्मचारी घोटाले में लिप्त होते हैं. चौंकाने वाली बात यह है कि हर चार घंटे में बैंक का एक कर्मचारी धोखाधड़ी जैसे मामलों में पकड़ा जाता है. रिजर्व बैंक के तैयार किए एक डाटा के मुताबिक, देश में हर चार घंटे में एक बैंकर को फ्रॉड के केस में पकड़ा जाता है और सजा दी जाती है. 

बड़ी खबर: RBI का बड़ा खुलासा, हर 4 घंटे में बैंक का एक कर्मचारी करता है 'घोटाला'

दो साल में पकड़े गए 5200 कर्मचारी
टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, आरबीआई की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि 1 जनवरी 2015 से 31 मार्च 2017 के बीच सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के 5200 कर्मचारी को धोखाधड़ी के मामलों में सजा हुई है.

दोषियों पर कार्रवाई की गई
आरबीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘फ्रॉड में पकड़े गए इन कर्मचारियों को दोषी घोषित करके उन पर पेनाल्टी लगाई गई. साथ ही नौकरी से भी निकाला गया. हालांकि, बैंक अभी अप्रैल 2017 से दिसंबर तक का डाटा तैयार कर रहा है. 

PNB घोटाले पर बोले राजनाथ सिंह, नीरव मोदी को अमेरिका से खींच लाएंगे

फ्रॉड के मामले में SBI कर्मचारी टॉप पर
सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की बात करें तो सबसे ज्यादा धोखाधड़ी के मामले में देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के कर्मचारी टॉप पर हैं. एसबीआई के 1538 कर्मचारियों को धोखाधड़ी के मामले में दोषी पाया गया. इसके अलावा इंडियन ओवरसीज बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों ने भी सबसे ज्यादा फ्रॉड किया. चौंकाने वाली बात यह है कि इन बैंकों की तुलना में एसबीआई के तीन गुना ज्यादा कर्मचारी ऐसे मामलों में शामिल पाए गए.

किस बैंक में कितना भ्रष्टाचार

 बैंक जनवरी-दिसंबर 2015 जनवरी-दिसंबर 2016 जनवरी-मार्च, 2017 कुल
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 888 547 103 1538
इंडियन ओवरसीज बैंक 245 160 44 449
सेंट्रल बैंक 248 130 28 406
यूनियन बैंक 125 72 17 214
पीएनबी 115 58 11 184
22 अन्य बैंक 1127 1027 255 2409
कुल 2748 1994 458 5200

कर्मचारियों की वजह से इतना बड़ा नुकसान

   2013-14 2014-15 2015-16 2016-17 कुल
कितने फ्रॉड हुए 4305 4639 4690 3870 17504
कितने करोड़ का फ्रॉड 10170 19455 18461 17750 66066
कर्मचारी लिप्त पाए गए 501 551 582 450 2084

बैंकों को कितना हुआ नुकसान
आरबीआई की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा नहीं किया गया है कि धोखाधड़ी में पकड़े गए कर्मचारियों की वजह से बैंकों को कितना नुकसान हुआ. आरबीआई के एक पुराने डाटा के मुताबिक, 1 अप्रैल, 2013 से 31 दिसंबर 2016 तक प्राइवेट बैंकों समेत सभी कमर्शियल बैंकों को 1704 फ्रॉड के मामलों से 66 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ. फ्रॉड के कुल मामलों में बैंक कर्मचारी के मिले होने वाले मामलों की संख्या 2084 है.

 

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच