फेसबुक पर वायरल हो रहे BFF की जानें क्या हैं सच्चाई, इस तरह रखें अपने अकाउंट सुरक्षित

- in गैजेट

फेसबुक डाटा लीक के बाद कई खबरें वायरल हो रही हैं। इनमें से कुछ तो काम की होती हैं, लेकिन कुछ खबरें ऐसी भी होती जो फेक होती है। हाल फिलहाल भी फेसबुक पर एक फेक खबर वायरल हो रही है और यूजर्स उसे सही खबर समझ कर उस पर कमेंट भी कर रहे हैं। फेसबुक पर एक मैसेज/पोस्ट वायरल हो रहा है जिसमें कहा जा रहा है की ‘फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने आपके अकाउंट को सेफ रखने के मकसद से ‘BFF’ का आविष्कार किया है। यदि आप इस पोस्ट के कॉमेंट में ‘BFF’ लिखेंगे और वह हरा हो जाता है तो समझिए कि आपका अकाउंट सेफ है अन्यथा खतरे में है।’

BFF के नाम से फैली यह खबर पूरी तरह से फेक या गलत है। यह फेक यूजर्स वायरल भी इसलिए हो रही है क्योंकि लोगो को इसका असली अर्थ नहीं पता। लोग इस तरह की पोस्ट पर BFF कमेंट भी कर रहे हैं ताकि उन्हें पता चल सके की उनका काउंट सेफ है या नहीं। हालांकि, यह सही है की पोस्ट पर BFF लिखने से वो ग्रीन हो जाएगा, लेकिन इसका दूर-दूर तक आपका अकाउंट सेफ होने से कोई मतलब नहीं है।

BFF लिखने पर उसका ग्रीन होने फेसबुक के फीचर में से एक है। जिस तरह फेसबुक पिछले कुछ दिनों से बधाई लिखने पर केसरिया रंग देने का फीचर लाया था, उसी तरह यह फीचर भी है। यहां BFF का मतलब बेस्ट फ्रेंड फॉरएवर से है। इसे आप किसी अच्छे दोस्त के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। यह मात्र एक फीचर है और इसका आपके अकाउंट के सुरक्षित होने से कोई सम्बन्ध नहीं है।

Facebook डाटा लीक होने के लिए आप ही हैं जिम्मेदार, अखीर क्यों करते हैं ये गलती ?

हालांकि, अगर आप अपने अकाउंट को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो आप नीचे दी गई कुछ टिप्स को फॉलो कर सकते हैं:

‘टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन’: अगर आप अपने फेसबुक प्रोफाइल को सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो सबसे पहले अपनी प्रोफाइल की सेटिंग्स में जाकर में ‘टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन’ को इनेबल करें। इस सेटिंग को इनेबल करने पर अगर कोई आपका पासवर्ड पता भी कर ले, तो भी आपका प्रोफाइल एक्सेस नहीं कर पाएगा।

You may also like

10,000 रुपये से भी कम कीमत में इस भारतीय कंपनी ने लॉन्च किया अपना लैपटॉप

नई दिल्ली। भारतीय निर्माता कंपनी RDP ने अपना सबसे