अश्विन बोले- टीम में वापसी को लेकर नहीं उड़ी है रातों की नींद, फिलहाल मेरा ध्यान IPL पर

- in खेल

सीनियर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा है कि भारत की सीमित ओवरों की टीम में वापसी को लेकर उनकी रातों की नींद नहीं उड़ी है. फिलहाल उनका ध्यान आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) में किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी की ‘बड़ी जिम्मेदारी’ पर है.

अश्विन बोले- टीम में वापसी को लेकर नहीं उड़ी है रातों की नींद, फिलहाल मेरा ध्यान IPL परयुवराज सिंह और एरॉन फिंच जैसे खिलाड़ियों पर तवज्जो देकर अश्विन को किंग्स इलेवन पंजाब का कप्तान नियुक्त किया गया. उन्होंने ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के साथ भारत की सीमित ओवरों की टीम में स्थान गंवा दिया है. अश्विन ने भारत की ओर से पिछला सीमित ओवरों का मैच जुलाई 2017 में खेला था.

अश्विन ने पीटीआई से कहा, ‘मैं इस साल के आईपीएल को भारतीय टीम में वापसी के तौर पर नहीं देख रहा. आईपीएल में उसी मानसिकता के साथ उतरूंगा जैसे हर साल उतरता हूं. इस सत्र में मेरे ऊपर बड़ी जिम्मेदारी (किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी की) है और मैं चुनौती के लिए तैयार हूं. मैं किसी और चीज पर ध्यान नहीं दे रहा. अगर होना होगा तो ऐसा (भारतीय टीम में वापसी) होगा.’

अंगुली के स्पिनरों अश्विन और जडेजा का चयन अगले साल होने वाले विश्व कप में मुश्किल नजर आता है, क्योंकि फिलहाल कलाई के स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. हालांकि आईपीएल में अश्विन का प्रदर्शन उनके लिए सिर्फ एक कप्तान ही नहीं, बल्कि सीनियर गेंदबाज के रूप में भी अहम होगा. वह अप्रैल-मई में होने वाले इस टूर्नामेंट में लेग स्पिन आजमाने को भी तैयार हैं.

टीम संयोजन पर फैसला अभी जल्दबाजी होगा, लेकिन अश्विन के सामने जो चुनौतियां हैं उनमें से एक टीम में शामिल सीनियर खिलाड़ियों के साथ सामंजस्य बैठाना है. युवराज सिंह, फिंच, डेविड मिलर और क्रिस गेल टीम में शामिल कुछ हाई प्रोफाइल खिलाड़ी हैं.

एक समय आईपीएल नीलामी की शान रहे युवराज और गेल की मांग में काफी कमी आई है और पंजाब की टीम ने इन दोनों को पिछले महीने हुई नीलामी में उनके आधार मूल्य पर खरीदा. युवराज का अंतिम एकादश में खेलना लगभग तय है, लेकिन यह देखना होगा कि टीम प्रबंधन गेल का सर्वश्रेष्ठ इस्तेमाल कैसे करता है क्योंकि उनके पास फिंच और मयंक अग्रवाल की फॉर्म में चल रही सलामी जोड़ी है. पंजाब की टीम के लिए लोकेश राहुल भी पारी का आगाज कर सकते हैं.

You may also like

बड़ा खुलासा: इस वजह से विराट कोहली की शादी में शामिल नहीं हुए थे वीरेंद्र सहवाग, जाने वजह

क्रिकेट का खेल साल 1877 में शुरू हुआ