असदुद्दीन ओवैसी का बड़ा बयान, मस्जिद जहां थी, वहीं बनेगी… नहीं छोड़ेंगे दावा

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने राम मंदिर और बाबरी मस्जिद को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि सुप्रीम कोर्ट आस्था के आधार पर नहीं बल्कि सबूतों के आधार पर अपना फैसला देगी। उन्होंने यह भी कहा कि विवादित ढांचे पर बाबरी मस्जिद ही बनेगी। यह सभी बातें उन्होंने दिल्ली के एक कार्यक्रम के दौरान कहीं।

ओवैसी ने कहा- हमारी मस्जिद थी, है, रहेगी और इंशाल्लाह सुप्रीम कोर्ट का फैसला हमारे पक्ष में आने के बाद यह एक बार फिर से उसी जगह पर बनेगी। मुझे यकीन है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आस्था के आधार पर नहीं बल्कि सबूतों के आधार पर होगा। हैदराबाद के सांसद ने कहा- अयोध्या के विवादित ढांचे पर मुस्लिम अपनी मस्जिद के दावे को कभी नहीं छोड़ेंगे।

सांसद ने कहा- वे लोग जो हमें डरा रहे हैं और हमारी शरीयत के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहे हैं, वे हमें दावा छोड़ने को कह रहे हैं। मैं उन्हें बता देना चाहता हूं कि हम अपनी मस्जिद कभी नहीं छोड़ेंगे। पंजाब नेशनल बैंक में हुए करोड़ों रुपए के घोटाले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने सवाल पूछा है कि पीएम का गीता जेम्स से क्या संबंध है। उन्होंने कहा कि जो लोग हमें पाकिस्तानी कहते हैं, मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि हर्षद मेहता, केतन पारेख और नीरव मोदी मुस्लिम थे क्या?

असदुद्दीन ने कहा कि पीएम मोदी जिन लोगों को भाई कहते हैं, उन्होंने हमारे देश को लूटने का काम किया। देश में मुस्लिमों को दूसरी श्रेणी के नागरिकों का दर्जा कर दिया गया है। हम हिंदू-मुस्लिम भाई के सिद्धांत पर भरोसा करते हैं, लेकिन इसने हमारी मदद कभी नहीं की। देश अब हिंदुत्व की ओर बढ़ रहा है। हमारे साथ देश में दूसरी श्रेणी के नागरिक जैसा बर्ताव किया जा रहा है।

You may also like

राहुल गाँधी के बचाव में आये ये नेता, बोले- पहले अपना ज्ञान बढ़ाये अमित शाह

नई दिल्‍ली। भारत में आगामी चुनाव बेहद काफी नजदीक