फ्रांस के खिलाफ 4-3 से मिली करारी हार के बाद वर्ल्ड चैंपियन अर्जेंटीना फीफा वर्ल्ड कप 2018 से बाहर हो गया। टीम के वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद से ही दुनिया भर के फैंस मायूस हैं।

पश्चिम बंगाल में भी फैंस फुटबॉल को काफी पसंद करते हैं। अर्जेंटीना की हार से आहत बीस साल के फैन ने अपने घर में रविवार सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने वाले युवक की पहचान मंतोष हलधर के रूप में हुई है और वो माल्दा जिले के चैतियांगाछी गांव का रहने वाला था।

बीस साल के फैन ने की आत्महत्या

शुरुआती जांच में ये पता चला है कि मंतोष फुटबॉल का दीवाना था। मैराडोना उसके पसंदीदा खिलाड़ी थे और अर्जेंटीना फेवरेट टीम। उसका ज्यादातर वक्त टीवी पर फुटबॉल देखते ही बीतता था। बाकी वक्त में वो गांव के बच्चों के साथ फुटबॉल खेलता था। मंतोष के पिता ने अंग्रेजी अखबार टेलीग्राफ को बताया कि, “शनिवार रात को फ्रांस के हाथों अर्जेंटीना की करारी हार के बाद से ही वो काफी दुखी था। उसने मुझसे भी बात नहीं की और अपने कमरे में चला गया। सुबह जब उसके कमरे में गए तो वो फांसी के फंदे पर लटका मिला।”

मंतोष की मौत से पड़ोसी भई दुखी हैं। उसके पड़ोस में रहने वाले एक शख्स ने बताया कि, मंतोष मैराडोना के अलावा अर्जेंटीना का बहुत बड़ा फैन था। मैसी का खेल भी उसे काफी पसंद था। ऐसे में वो अर्जेंटीना की हार बर्दाश्त नहीं कर सका और उसे ये लगा कि वो अगला विश्व कप में मैसी को खेलते नहीं देख पाएगा।खाली वक्त में वो घऱ पर फुटबॉल ही देखता था। ऐसे में उसके पड़ोसी भी हैरान हैं कि आखिर उसने ऐसा कदम कैसे उठा लिया।

इस मामले में पुलिस ने भी जांच शुरू कर दी है और आत्महत्या करने वाले युवा के परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ की है। शुरुआती जांच में तो पुलिस को भी ये आत्महत्या दिख रही है।

टीम इंडिया टी-20 मुकाबले से पहले मिली ये अच्छी खबर, इंग्लैंड का ये खिलाड़ी हुआ बाहर..

केरल का एक फैन भी कर चुका है सुसाइड

अर्जेंटीना के फैन की आत्महत्या का ये कोई पहला मामला नहीं है। पिछले हफ्ते भी ऐसी घटनाएं सामने आई हैं। पिछले हफ्ते ही केरल में मैसी का एक फैन घऱ से लापता हो गया था। कुछ दिनों बाद उसकी लाश मिली थी। दीनू जॉन नाम के इस फैन ने एक सुसाइड नोट छोड़ा था, जिसमें उसने लिखा था कि वो क्रोएशिया के हाथों अर्जेंटीना को मिली 3-0 की करारी हार के बाद से बहुत दुखी है।

फ्रांस के हाथों अंतिम-16 के अहम मैच में अर्जेंटीना को मिली हार के बाद से मैसी के भविष्य को लेकर सवाल उठ रहे हैं। मैसी 31 साल के हो गए हैं और जब 2022 में अगला फुटबॉल विश्व कप खेला जाएगा तो उनकी उम्र 35 के पार हो जाएगी।

मैसी की उम्र के अलावा ये देखना भी काफी दिलचस्प होगा कि 2022 में कतर में होने वाले फुटबॉल वर्ल्ड कप के लिए अर्जेंटीना क्वालिफाई कर भी पाती है या नहीं, क्योंकि रूस में चल रहे फीफा वर्ल्ड कप 2018 में वो बड़ी मुश्किल से जगह बना पाया था।