हरिद्वार में हो रहा अंकित का अंतिम संस्कार, आज मिलेंगे केजरीवाल

दिल्ली के ‌ख्याला में प्रेम संबंध के कारण मौत के घाट उतार दिए गए अंकित के परिजनों ने आज हरिद्वार में उसका अंतिम संस्कार कर दिया। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार परिवार के संपर्क में हैं। अंतिम संस्कार से लौटने के बाद सीएम केजरीवाल पीड़ित परिवार से मुलाकार करेंगे।

हरिद्वार में हो रहा अंकित का अंतिम संस्कार, आज मिलेंगे केजरीवाल रविवार को आम आदमी पार्टी के कई विधायक और राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता अंकित सक्सेना के घर पहुंचे। हालांकि अंकित के परिवार के हरिद्वार जाने की वजह से उनकी मुलाकात नहीं हो सकी।
 
अंकित के पिता यशपाल सक्सेना ने बेटे की हत्या पर राजनीति नहीं करने की अपील की है। उनका कहना है कि वह किसी धर्म विशेष पर अंकित की हत्या का आरोप नहीं लगा रहे हैं, न ही उन्हें किसी धर्म से कोई दिक्कत है।

दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए पिता ने कहा कि उनका बेटा किसी भी धर्म या जाति की लड़की से शादी करने की इच्छा जाहिर करता तो वह उसके लिए हमेशा तैयार थे।
अंकित की मौत के बाद रघुवीर नगर में तनाव की स्थिति बनी हुई है। लोग इस हत्याकांड को एक समुदाय से जोड़ने का प्रयास कर रहे हैं तो कुछ इसे लव जिहाद तक कह रहे हैं।

वारदात के बाद से कुछ भी बोलते हुए अंकित के पिता की आवाज लड़खड़ा रही है। उसकी मां कमलेश का रो-रो कर बुरा हाल है। कमलेश घर आने वाले हर व्यक्ति से अपने बाबू (अंकित) को लाने का गुहार लगा रही हैं। अंकित की मां को मधुमेह है, जबकि यशपाल को दिल की बीमारी है।

14 साल पहले यशपाल की टीवी की दुकान थी। दिल की बीमारी होने के बाद वे घर में ही रहने लगे। उसके बाद से परिवार के भरण-पोषण की जिम्मेदारी अंकित के कंधों पर ही थी। उसकी मौत के बाद परिवार के सामने गुजारे का सवाल खड़ा हो गया है। अंकित का शव आने के बाद इलाके का पूरा माहौल गमगीन हो गया।

आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा

वारदात में शामिल लड़की के गिरफ्तार माता-पिता और मामा को पुलिस ने शनिवार को अदालत में पेश किया। वहां से तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। लड़की के नाबालिग भाई को जुवेनाइल होम में भेजा गया है। जिला पुलिस उपायुक्त विजय कुमार ने बताया कि लड़की ने भी अपनी जान को खतरा बताया है। पुलिस उसे चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के सामने पेश करेगी।

रघुवीर नगर में तनाव बरकरार अर्धसैनिक बल तैनात 
23 साल के यूट्यूबर व फोटोग्राफर अंकित की हत्या के बाद से रघुवीर नगर में तनाव बरकरार है। इलाके में गड़बड़ी रोकने के लिए अर्धसैनिक बल तैनात किया गया है। वारदात के बाद से आरोपी पक्ष के लोगों में भी दहशत है। लड़की के अन्य परिजन डरे हुए हैं।

बताया जा रहा है कि सभी दिल्ली छोड़ने की तैयारी कर रहे हैं। शनिवार सुबह से ही अंकित के परिजनों से मिलने के लिए उनके रिश्तेदारों और परिचितों के साथ स्थानीय नेता भी आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस को खुफिया जानकारी मिली है कि दो-तीन दिन में यहां के हालात बिगाड़ने की कोशिश की जा सकती है।

पुलिस इलाके में अफवाह फैलाने वालों पर भी नजर रख रही है। अफवाह उड़ाई गई कि लड़की के चाचा को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया गया है। जांच में मारपीट की बात सामने आई। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उन्हें अस्पताल से इसकी जानकारी मिली थी। 

यह था मामला 

अंकित रघुवीर नगर में रहता था। उसका एक अन्य समुदाय की लड़की से प्रेम प्रसंग था। दोनों शादी करना चाहते थे। लड़की के परिवार वाले इस बात से नाराज थे। उन्होंने बृहस्पतिवार रात अंकित की गला रेतकर हत्या कर दी थी।

ख्याला में अंकित सक्सेना की हत्या को लेकर आप नेता और कवि कुमार विश्वास व विधायक कपिल मिश्रा ने हुक्मरानों पर सीधा हमला बोला। कुमार विश्वास ने इसे हुक्मरानों के लिए जलालत भरा समय बताया, वहीं कपिल मिश्रा ने सीधे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला करते हुए कहा कि धर्म देखकर यहां लाशों पर रोया जाता है।

कुमार विश्वास ने इस हत्या पर ट्वीट किया, ‘कभी हिंदू, कभी मुस्लिम बनाकर कत्ल करते हैं। पता करिए कि हत्यारों पे किसकी मेहरबानी है? हो रोहित वेमुला, अखलाक, चंदन या अंकित हो, हमारे हुक्मरानों की जलालत की कहानी है।’ उन्होंने इस ट्वीट के जरिये इन हत्याओं से होने वाले राजनीतिक फायदे की ओर भी इशारा किया।

इस ट्वीट के बाद आप से निष्कासित पूर्व मंत्री व विधायक कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर सीधा हमला बोला। कपिल ने ट्वीट करके लिखा, ‘अगर अंकित का नाम अखलाक हुआ होता, मेरे शबर का मालिक कल सारी रात न सोता। मौत की कीमत लाश का धर्म देखकर लगाते हैं, वो दिल्ली को मुगलिया अंदाज में चलाते हैं।’ दरअसल, अंकित की हत्या पर केजरीवाल सरकार की चुप्पी से कपिल खासे खफा हैं।

अंकित के घर पहुंचे मनोज तिवारी
दिल्ली प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने रघुवीर नगर में युवा फोटोग्राफर अंकित सक्सेना के परिजनों से मिलकर संवेदना प्रकट की। उन्होंने अंकित के माता-पिता के इलाज की राममनोहर लोहिया अस्पताल में व्यवस्था कराई।

वहीं दिल्ली सरकार से मांग की कि जिस तरह पहले कई मामलों में एक करोड़ रुपये मुआवजा देने की घोषणा कर चुकी है, उसी तरह अंकित के परिवार को भी मुआवजा दे। रघुवीर नगर में अंकित की शुक्रवार को प्रेम संबंध के चलते हत्या कर दी गई थी। इस दौरान हुए हमले में उसके माता-पिता भी घायल हुए थे। ब्यूरो

 
 

You may also like

लौटते मॉनसून की हिमाचल के बाद पंजाब में तबाही, घरों से न निकलें लोग

लौटते मॉनसून ने उत्तर भारत में एक बार