असम में अमित शाह की हुंकार बोले- असम देश की संस्कृति का गहना है

दो दिन के पूर्वोत्तर दौरे पर पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को असम के गुवाहाटी में लोगों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि असम में विकास को गति मिल रही है. असम देश की संस्कृति का गहना है. पूर्वी भारत के बिना भारत का विकास अधूरा है.

अमित शाह ने कहा, वो वक्त भी था, जब पूरे पूर्वोत्तर भारत में सिर्फ आतंकवाद था. पीएम मोदी पिछले 6 वर्ष में 30 बार पूर्वोत्तर भारत में आए. लेकिन ऐसा भी वक्त था, जब कोई प्रधानमंत्री कभी-कभार यहां आते थे. उन्होंने कहा, असम में एक समय आंदोलनों का दौर आया, अलग-अलग बातों को लेकर आंदोलन हुए, सैकड़ों युवा मारे गए. असम की शांति को भंग कर दिया गया साथ ही असम के विकास को रोक दिया गया. एक जमाने में यहां के सारे राज्यों में अलगाववादी अपना एजेंडा चलाते थे, युवाओं के हाथों में बंदूक पकड़ाते थे.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

गृह मंत्री ने कहा, असम में लगभग साढ़े 4 साल के अंदर जो विकास की यात्रा पीएम मोदी की अगुआई में यहां सर्वानंद सोनोवाल और हेमंत विश्वा शर्मा की जोड़ी ने आगे चलाई है, इसका एक महत्वपूर्ण पड़ाव आज है. अब पूरा पूर्वोत्तर भारत डेवेलपमेंट का ग्रोथ इंजन बन चुका है. सारे आतंकी संगठन अब मुख्यधारा में आ चुके हैं.

कांग्रेस पर बोला हमला

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि उसने असम के लोगों और उनके गौरव के लिए कुछ नहीं किया. हम नए डेवेलपमेंट और विकास कार्यों के लिए 155 करोड़ रुपये दे रहे हैं. लोगों को अपनी विरासत से जुड़ना होगा. सिर्फ विकास ही एकमात्र रास्ता है और अब लोगों से अनुरोध है कि वे अपनी सोच बदलें.

असम को कई सौगातें

अमित शाह ने कहा, असम में 1 लाख से ज्यादा नामघर, वैष्णव सम्प्रदाय को, हमारी संस्कृति को, शंकरदेव के संदेश को आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं. उनमें से 50 साल पुराने 8 हजार नामघरों को आज 2.50 – 2.50 लाख रुपये देने का काम हो रहा है. उन्होंने कहा, मैं यहां पहले भी आया हूं. हम लखीमपुर, नागांव और तिनसुकिया में नए मेडिकल कॉलेज बना रहे हैं. उन्होंने कहा, आज राज्य के अंतर्गत 11 विधि कॉलेजों की स्थापना की आधारशिला रखी गई है. असम ने इस देश को गोगोई साहब के रूप में CJI देने का काम किया है. ये विधि विद्यालय अनेक ऐसे विद्वानों को हमारी न्याय प्रणाली को सुदृढ़ करने के लिए देंगे.

चुनावों में कोई खून-खराबा नहीं हुआ

उन्होंने कहा कि बोडोलैंड के चुनाव में 80 प्रतिशत वोटिंग हुई और पूरी प्रक्रिया के दौरान कोई खून-खराबा नहीं हुआ. हमने बोडोलैंड के विकास के लिए 5 हजार करोड़ रुपये दिए हैं, जिससे जमीनी स्तर पर बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा. लोगों ने इस सेमीफाइनल में हमारे लिए वोट किया है और मुझे उम्मीद है कि फाइनल (असम विधानसभा चुनाव) में भी वो हमारे लिए वोट देंगे. शाह ने आगे कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में असम सबसे आगे रहा. उन्होंने कहा कि राज्य में डेथ रेट सिर्फ 0.47 प्रतिशत है, जो अपने आप में रिकॉर्ड है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button