अमेरिका के बाद अब यह देश हो सकता हैं मास्क फ्री, जल्द मिल सकती हैं इजाजत

दक्षिण कोरियाई अधिकारियों ने बताया कि कि आगामी जुलाई माह से वे लोगों को मास्क उतारने की इजाजत दे देंगे बशर्ते लोगों ने कोरोना वैक्सीन की एक खुराक भी ले रखी हो। दरअसल यहां वैक्सीनेशन को लेकर लोगो के बीच जागरुकता लाने का प्रयास किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री वोन डियोक चोल ने बुधवार को कहा कि  यह योजना  सरकार द्वारा चलाए जा रहे वैक्सीनेशन पर निर्भर करती है।

दरअसल जून के अंत तक यहां के 13 मिलियन लोगों को वैक्सीन की पहली खुराक देने का लक्ष्य रखा गया है। अधिकारियों ने यह भी कहा कि जहां शारीरिक दूरी कायम रखना मुश्किल है वहां लोगों को मास्क लगाना होगा।फरवरी के अंत में यहां वैक्सीनेशन की शुरुआत हो गई और अब तक करीब 3.9 मिलियन लोगों ने खुराक ले लिया है जो यहां के 51 मिलियन की जनसंख्या का 8 फीसद है। 

सरकार ने कहा कि यह कदम लोगों को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहित करने के लिए है क्योंकि दक्षिण कोरिया का लक्ष्य सितंबर तक अपने 51 मिलियन लोगों में से कम से कम 70 फीसद का वैक्सीनेशन करना है। देश के प्रधानमंत्री किम बू-क्यूम ने एक बैठक में कहा कि वैक्सीन की कम से कम एक डोज जिन लोगों को मिल चुकी है वे जून से समूहों में जा सकते हैं सामूहिक आयोजनों में शामिल हो सकते हैं। हालांकि, क्वारंटाइन के नियमों में अक्टूबर तक छूट नहीं दी जाएगी।

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की ओर से लगातार इस बात पर जोर दिया जा रहा है कि भले कोई स्‍वस्‍थ हो या फिर कोरोना से उबर गया हो या फिर उसने वैक्‍सीन ली हो, लेकिन कोविड की रोकथाम को बनाए नियमों का कड़ाई से पालन करने से ही इस महामारी को फैलने से रोका जा सकता है। संगठन की तरफ से ये भी कहा गया है कि हर किसी को घर से बाहर निकलते हुए मास्‍क का प्रयोग करना है। घरों में साफ-सफाई का ध्‍यान रखना है और कुछ कुछ देर में अपने हाथों को सेनेटाइजर या साबुन से साफ करना है। 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button