दैवीय आपदा के बाद अरब सागर में ‘चक्रवात सागर’ का हो रह हैं निर्माण

उत्तर भारत में दो भयंकर आंधी आने के बाद अब अरब सागर में चक्रवात ‘सागर’ का निर्माण हो रहा है। इससे समंदर में 80 से 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। यह भारतीय समुद्र क्षेत्र में बनने वाला इस मौसम का पहला चक्रवात है। दैवीय आपदा के बाद अरब सागर में 'चक्रवात सागर’ का हो रह हैं निर्माणमौसम विशेषज्ञों ने साफ किया है कि पश्चिमी भारतीय तटों पर इसके असर की कोई आशंका नहीं है। चक्रवात सागर की स्थिति बृहस्पतिवार को यमन के पूर्वी-उत्तर-पूर्वी तट से करीब 400 किलोमीटर दूर अदन की खाड़ी के ऊपर थी। यह क्षेत्र सोकोट्रा द्वीप के पश्चिमी-उत्तरी-पश्चिमी तट से 560 किलोमीटर दूर है। अरब सागर में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने के कारण इस चक्रवात का निर्माण हुआ है।

12 घंटे में बन सकता है उष्ण कटिबंधीय तूफान 

चक्रवात सिस्टम खुले जल क्षेत्र में बना है। इसलिए इसकी शक्ति बढ़ रही है। अगले 12 घंटे में यह उष्ण कटिबंधीय तूफान में तब्दील हो सकता है। हालांकि इसके बाद यह कमजोर होने लगेगा। शनिवार तक इसका असर बेहद क्षीण हो जाएगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

नवाज और मरियम शरीफ को कोर्ट से मिली बड़ी राहत, सजा पर लगाई रोक

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बड़ी राहत मिली