30 साल की उम्र के बाद महिलाओं को जरुर रखना चाहिए इन बातों का ध्यान…

 उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं को सेहत से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वहीं 30 के बाद महिलाओं को थकान, कमजोरी होने के साथ कई बीमारियों की चपेट में आने का खतरा रहता हैं। एक्सपर्ट अनुसार, उम्र के इस पड़ाव में आने पर महिलाओं को सेहत का ध्यान रखते हुए कुछ जांच करवा लेनी चाहिए।

ब्रेस्ट कैंसर

दुनियाभर में सबसे अधिक महिलाएं ब्रेस्ट कैंसर की खतरनाक बीमारी से जूझ रही हैं। एक्सपर्ट अनुसार, 30 बाद इस गंभीर बीमारी की चपेट में आने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में अगर आपको स्तन में सूजन, दर्द, आकार में बदलाव आदि कोई तकलीफ या कोई बदलाव महसूस हो तो बिना देरी किए डॉक्टर से जांच करवाएं।

वजन बढ़ना

मोटापा बीमारियों की चपेट में आने का मुख्य कारण माना गया है। अचानक से वजन बढ़ने का कारण थायरॉयड और कोलेस्ट्रोल भी हो सकता है। इसलिए उम्र के इस पड़ाव पर आते ही महिलाओं को थायरॉयड, कोलेस्ट्रोल और डायबिटीज की जांच जरूर करवानी चाहिए। इसके अलावा पोलिस्टिक ओवरी सिंड्रोम ( PCOS) की समस्या से जूझ रही औरतों का वजन भी बढ़ जाता है। यह एक हार्मोनल बीमारी हैं, जिसमें महिलाओं को डायबिटीज और दिल से जुड़ी बीमारियों की चपेट में आने का खतरा रहता है। आप वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज, हैल्दी डाइट, योगा आदि का सहारा ले सकती हैं।

हाई ब्लड प्रेशर

वजन बढ़ने या गर्भनिरोधक गोलियां खाने से महिलाओं को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती हैं। रिसर्च अनुसार, जो महिलाएं हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रही होती हैं उन्हें गर्भावस्था दौरान कई परेशानियां आती है। बता दें, 30 के बाद महिलाओं को अधिक नमक का सेवन और तनाव लेने से बचना चाहिए। नहीं तो वे हाई ब्लड प्रेशर का शिकार हो सकती है। इसके कारण महिलाओं को किडनी से जुड़ी समस्याएं होने का खतरा रहता है।

नजर कम होना

30 के बाद शरीर में न्यूट्रिशन का लेवल भी कम होने लगता है। इसके कारण नजर कमजोर हो सकती हैं। इसके अलावा माइग्रेन की बीमारी होने पर भी आंखों की रोशनी पर बुरा प्रभाव पड़ता है। ऐसे में धुंधला दिखाई देने पर बिना देरी किए डॉक्टर से संपर्क करें। इसके साथ ही अपनी डेली डाइट में विटामिन ए, सी, ई, जिंक से भरपूर चीजों का सेवन करें।

थकान रहना

उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं के शरीर में कमजोरी आने लगती हैं। इसके कारण वे कम काम करने पर भी जल्दी ही थकान, कमजोरी महसूस करने लगती हैं। एक्सपर्ट अनुसार, इसतरह कमजोरी रहने पर किसी बीमारी की चपेट में आने का संकेत हो सकता है। वहीं आमतौर पर थायरॉयड के मरीजों को ज्यादा थकान होती हैं। इसके अलावा इसका कारण अनिंद्रा, डायबिटीज भी हो सकता है। इसलिए ज्यादा थकान महसूस होने पर महिलाओं को तुरंत इन बीमारियों के टेस्ट करवा लेने चाहिए।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

20 − sixteen =

Back to top button