दुष्यंत चौटाला ने बताया- अडानी ग्रुप ने बिजली सप्‍लाई बंद कर दी तो हरियाणा में हो जाएगा ब्लैक आउट

रोहतक। इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार अडानी ग्रुप के सामने झुक गई है और समझौता तोड़कर बिजली के दाम बढ़ा दिए हैं। अब बिजली के बढ़े दाम का बोझ प्रदेश की जनता पर पड़ेगा। पानीपत और खेदड़ थर्मल प्लांट में कई यूनिट ठप हो गई है। सरकार ने ऐसी स्थिति पैदा कर दी है कि अडानी ग्रुप ने थर्मल प्लांट पर ताला लगा दिया, तो पूरा हरियाणा ब्लैक आउट हो जाएगा।दुष्यंत चौटाला ने बताया- अडानी ग्रुप ने बिजली सप्‍लाई बंद कर दी तो हरियाणा में हो जाएगा ब्लैक आउट

दुष्यंत चौटाला यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि बिजली आपूर्ति को लेकर आमजन, किसान और उद्योगपति खासे परेशान हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में तो बिजली आपूर्ति का बुरा हाल है। किसानों के ट्यूबवेल के लिए निर्धारित बिजली में भी कटौती कर दी गई है। बिजली की कमी से उद्योग धंधे भी पूरी तरह से ठप हो गए हैं।

उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार अडानी ग्रुप से 2000 मेगावाट और टाटा से 750 मेगावाट बिजली खरीद रही है। सरकार ने राज्‍य में बिजली उत्‍पादन संयंत्रों को ठप कर दिया है। पानीपत थर्मल प्‍लांट में आठ यूनिट हैं, जिनमें से पांच बंद है। दुष्यंत ने कहा कि सरकार को बिजली संयंत्रों की एक-एक यूनिट को डाटा ऑनलाइन विभाग की साइट पर डालना चाहिए ताकि बिजली उत्‍पादन की हकीकत सामने आ सके।

उन्होंने कहा कि हम एसवाइएल का पानी हरियाणा में हर हालत में लेकर आएंगे। जेल भरो आंदोलन को सरकार ने गंभीरता से नहीं लिया तो प्रदेश के सभी जिलों को जाम कर देंगे। उन्होंने कृषि मंत्री के बिजली निगम के डाटा पर भी सवाल उठाया। उन्‍होंने कहा कि कृषि मंत्री का या तो गणित कमजोर है, या फिर जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं।

पूर्व सीएम हुड्डा पर साधा निशाना

दुष्‍यंत चौटाला ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर भी निशाना साधा। दुष्यंत ने कहा कि जिस व्यक्ति ने प्रदेश की 73 हजार एकड़ जमीन को बेच दिया, वह किसी अन्य पार्टी पर क्या सवाल उठा सकता है। पहले पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्उा ने प्रदेश को कर्जदार बनाया, अब भाजपा सरकार ने इस कर्ज को बढ़ा दिया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बिहार NDA पर JDU-BJP नेता फिर पड़ेंगे भारी

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने लोकसभा और विधानसभा