भगवा कुर्ता पहन इस बहाने मोदी के साथ हुए अमर सिंह

लखनऊ। कभी सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव की तारीफों के पुल बांधते न थकने वाले राज्यसभा सदस्य अमर सिंह रविवार को बदले-बदले नजर आए। इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में योगी सरकार के ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में वह भगवा कुर्ता पहनकर आए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर तंज कसते हुए जब अमर सिंह को गवाह बनाया तब उनकी ओर लोगों की निगाहें टिक गई। अमर सिंह की मौजूदगी के निहितार्थ निकाले जाने लगे। हालांकि अमर सिंह ने जागरण से कहा कि अब उनका पूरा जीवन मोदी को समर्पित है। उल्लेखनीय है कि बीते दिनों अमर सिंह ने योगी सरकार के कामकाज की भी तारीफ की थी। अब भगवा खेमे में बढ़ी सक्रियता पर तरह-तरह के कयास लग रहे हैं।भगवा कुर्ता पहन इस बहाने मोदी के साथ हुए अमर सिंह

राजनीतिक गलियारों का तापमान बढ़ा 

प्रधानमंत्री मोदी लौटते समय सभागार में अमर सिंह से मिले भी। रविवार को अमर सिंह राजधानी में सक्रिय थे। इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित समारोह में वह उद्यमियों से मिलते-जुलते रहे और शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पांच कालिदास मार्ग स्थित सरकारी आवास पर उनसे भी मिलने गए। अमर सिंह की इस सक्रियता ने राजनीतिक गलियारों का तापमान बढ़ा दिया। अमर सिंह भले सपा के सांसद हैं लेकिन समाजवादी कुनबे में कलह के बाद से ही उनकी दूरी बढ़ गई और मौके-बे-मौके उनका असंतोष व गुस्सा सामने आता रहा है। कई बार अमर सिंह ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर तंज किये और मोदी की तारीफ की है।

सपा से मतलब नहीं, अब जीवन मोदी को समर्पित 

दैनिक जागरण के एक सवाल पर राज्यसभा सदस्य अमर सिंह ने कहा कि सपा से अब मेरा कोई लेना-देना नहीं है। सपा मुझे दो बार पार्टी से निकाल चुकी है। अब मेरा पूरा जीवन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समर्पित है। यह पूछे जाने पर कि क्या मुलायम से भी उनका संबंध नहीं है, उन्होंने कहा कि कभी मुलायम ने कहा था कि आप मेरे दिल में हैं, लेकिन अब मेरी उनसे बात भी नहीं होती। मैं अब निर्दलीय राज्यसभा सदस्य हूं। पांच कालिदास जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी से उनके पुराने संबंध हैं।

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी एक नजर में

  • कुल परियोजनाएं-81
  • कुल निवेश-61746.67 करोड़ रुपये
  • कुल रोजगार-212762

प्रमुख सेक्टरों में निवेश

  • भारी उद्योग-26 प्रतिशत
  • खाद्य प्रसंस्करण-17 प्रतिशत
  • आइटी/आइटीईएस-11 प्रतिशत
  • आवास-8 प्रतिशत
  • एमएसएमई-6.2 प्रतिशत
  • डेयरी-5 प्रतिशत
  • पर्यटन-5 प्रतिशत
  • पशुपालन-4 प्रतिशत

किस क्षेत्र में कितना निवेश

  • पश्चिमांचल-55 प्रतिशत
  • मध्यांचल-22 प्रतिशत
  • पूर्वांचल-21 प्रतिशत
  • बुंदेलखंड-3 प्रतिशत

अधिक निवेश वाली परियोजनाएं

कंपनियां          निवेश (करोड़ रु.)

  • रिलायंस जियो इंफोकॉम  10000
  • वल्र्ड ट्रेड सेंटर            10000
  • टेग्ना इलेक्ट्रानिक्स        5000
  • इंफोसिस                  5000
  • बीएसएनएल              5000
  • वन 97 कम्युनिकेशन      3500
  • अडानी पावर              2500
  • टीसीएस                  2300
  • पतंजलि आयुर्वेद          2118
  • लूलू समूह                2000
  • एसेल इंफ्रा                1750
  • कनोडिया ग्रुप             1200
  • केआर पल्प एंड पेपर्स     500

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

इण्टरनेशनल एक्सपीरियन्स एक्सचेन्ज प्रोग्राम के तहत 28 को लखनऊ आएगा पेरू का छात्र दल

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस)