जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड में मारा गया एक आतंकी

जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में भारतीय जवानों ने एक आतंकी को मार गिराया है। जानकारी के मुताबिक भारतीय सेना ने यह एनकाउंटर देर रात कुपवाड़ा के जंगलों में किया है। वहीं दूसरी ओर पुलवामा के त्राल में 180 बटालियन के सीआरपीएफ शिविर में आतंकवादियों ने ग्रेनेड फेंक दिया है। हालांकि अभी हताहत या क्षति की कोई सूचना नहीं मिली है। फिलहाल क्षेत्र की घेराबंदी कर दी गई है। जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड में मारा गया एक आतंकी

बता दें कि आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर सेना ने जम्मू-कश्मीर में बवाल होने की आशंका जताई थी। सूत्रों की माने तो कश्मीर के कई जिलों में अलगाववादियों ने माहौल खराब करने की योजना भी बनाई गई थी। इसे देखते हुए राज्य के कई हिस्सों में पुलिस तैतान की गई थी। शनिवार को सेना और पत्थरबाजों के बीच झड़प भी हुई जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई। साथ ही कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए।
 
मालूम हो कि अलगाववादियों ने श्रीनगर बंद का ऐलान किया हुआ है। ऐसे में कई इलाकों में कर्फ्यू जैसा माहौल बना हुआ है। सुरक्षा बल शनिवार सुबह से ही जम्मू-कश्मीर के कई जिलों में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना पर सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं। 

त्राल में शनिवार सुबह से लगा कर्फ्यू

हिज्बुल मुजाहिद्दीन कमांडर बुरहान वानी की मौत को दो साल पूरा होने पर रविवार (8 जुलाई) को अलगाववादियों की रैली करने की योजना को नाकाम करने के लिए प्रशासन ने कश्मीर के त्राल में कर्फ्यू लगा दिया है।। घाटी के शेष हिस्सों में भी लोगों की आवाजाही पर पाबंदियां लगा दी गई हैं।

सड़कों पर सुरक्षा बल तैनात
 
शहर की तरफ जाने वाली सभी सड़कों को सील कर दिया गया है और प्रतिबंधों को लागू करने के लिए पुलिस व केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को भारी संख्या में तैनात कर दिया गया है। पूरे कश्मीर में किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस और अर्द्धसैन्य बलों को भी तैनात किया गया है।

जम्मू और कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने बताया कि अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है। परिस्तिथियों को देखते हुए लोगों से सहियोग की अपील की गई है। बुरहान वानी कि बरसी को देखते हुए सभी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हिमाचल में भारी बारिश से मची तबाही, चंबा में मझधार में फंसे 800 से ज्यादा स्कूली बच्चे

शिमला : हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी के कारण