9 मई 2018 दिन बुधवार का राशिफल एवं पञ्चाङ्ग – अब इन राशि वालों की चमकेगी किस्मत

आप सभी का मंगल हो…

।। आज का पञ्चाङ्ग – 9 मई २०१८ दिन बुधवार ।।

ऋतु-बसंत
माह-ज्येष्ठ
पक्ष-कृष्ण
तिथि-नवमी
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:25
सूर्यास्त-06:35
राहूकाल(अशुभमुहूर्त)दोपहर
12:00 से 01:30 तक
दिशाशूल-उत्तर
शुभदिशा-दक्षिण
अमृतमुहूर्त-प्रातः07:16 से 08:46 तक

।। आज का राशिफल ।।

मेष- आज कार्यस्थल में साथियों का और घर मे अपने से छोटे सदस्यों का सहयोग मिलेगा। बच्चों के करियर को लेकर हो रही चिंता आपको थोड़ी भाग-दौड़ करा सकती है। प्रियजन से दूरी संभव है यात्रा को टालें।
राशिरत्न:-मूँगा।
सुझाव:-किसी गरीब को भरपेट भोजन करावें।

aaj ka rashifal hindi me

वृषभ- आज आप का व्यापार उतार चढ़ाव भरा रहेगा जायदाद के बारे में किसी भी कागजात पर साईन करने में सावधानी बरतें।यात्रा के शुभ योग बन रहे हैं।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल
सुझाव:-किसी प्यासे को शरबत पिलावें।

मिथुन- आज आपको खोई हुई कोई खास चीज मिल सकती है। पहले दिया गया उधार आज वापस मिलने की संभावना है। इसके अलावा भी दिन भर आपको कई शुभ चिंतक मिलते रह सकते हैं।यात्रा से मध्यम लाभ।
राशिरत्न:-पन्ना
सुझाव:-मातारानी के मंदिर में कर्पूर दान करें।

कर्क- आज आपका दिन कई रंग बदलेगा। दिन बीतने के साथ-साथ ही काम बनते नज़र आएंगे। घर के छोटे सदस्यों के करियर की चिंता खत्म होगी।व्यापार से लाभ आने सुरु होंगे। यात्रा से विशेष लाभ संभव है।
राशिरत्न:-मोती
सुझाव:-पंखे का दान करें।

सिंह- आज आपके स्थिर सम्पत्ति के मामले हल हो सकते हैं। कमाई में बढ़ोतरी होगी। आपके तरोताजा विचार खराब से खराब माहौल में भी ताजगी भर देगा।व्यक्तित्व में निखार आएगा।यात्रा व व्यापार में मध्यम लाभ संभव है।
राशिरत्न:-माणिक्य
सुझाव:-मछलियों को चारा डालें।

कन्या- आज आपका दिन चुस्ती व फुर्ती से भरा होगा। बदलाव के तौर पर आप अपने अंदर छिपी प्रतिभा को बाहर निकालने की कोशिश करेंगे और कामयाब भी होंगे।
आर्ट व क्राफ्ट के क्षेत्र में सफलता मिलेगी। व्यावसायिक शिक्षा में प्रगति होगी।
राशिरत्न:-पन्ना
सुझाव:-आज आप 11 हनुमानचालिसा का पाठ करें।

तुला- आज सामाजिक स्तर में आपका मान सम्मान बढ़ेगा। आज व्यापार में मध्यम लाभ मिलेगा। धार्मिक कार्यक्रम ने आप की सहभागिता संभव है। पारिवारिक वातावरण अनुकूल रहेगा।कृषि कार्यों में प्रगति मिलेगी।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल
सुझाव:-आज यदि संभव हो तो सार्वजनिक प्याऊ लगवाएं।

वृश्चिक- आज आपको व्यापार में उत्तमोत्तम लाभ मिल सकेगा, शिक्षा जगत से विशेष लाभ संभव है। जीवनसाथी से प्रेम मिलता रहेगा। जूनियर्स से कहासुनी हो सकती है।यात्रा से लाभ है।
राशिरत्न:-मूँगा
सुझाव:-माता गायत्री की 5 माल मंत्र जप करें ब्राम्हण को भोजन करावें।

धनु- आज के दिन व्यवसायिक क्षेत्र में आपके लिए मन लगाना कुछ मुश्किल हो सकता है। आज आपको जो भी मिलेगा, वह सिर्फ आपकी मेहनत का ही नतीजा होगा।व्यर्थ की भाग दौड़ से बचें। यात्रा से स्वास्थ्य हानि है।
राशिरत्न:-पुखराज
सुझाव:-हरा दूर्वांकुर भगवान श्री गणेश को अर्पित करें।

मकर- आज का दिन आपके लिए कठिन परिश्रम जैसा है। मेहनत से जो कुछ भी करेंगे, वह काफी अच्छा रिजल्ट लेकर आएगा। जीवन साथी के साथ घूमने-फिरने मनोरंजन करने का मौका मिलेगा।यात्रा सुखद है।
राशिरत्न:-नीलम
सुझाव:-श्री लक्ष्मीनारायण मन्दिर में मिश्री का दान करें।

कुंभ– आज दिन की शुरुआत थोड़ी बेचैनी से होगी। ऐसे में महसूस होगा कि आपने एक ही दिन में ढेर सारे रुके हुए काम निपटा लिए हैं। थोड़ा न चाहते हुवे भी आपको घूमना-फिरना पड़ सकता है।
यात्रा से मध्यम लाभ है। कृषिकार्यों से हानि संभव है।
राशिरत्न:-नीलम
सुझाव:-भगवान श्री गणेश को मोदकों का भोग अर्पित करें।

मीन- आज आप किसी सौदे या लेन-देन के दौरान टेंशन न लें। बढ़ते खर्च को काबू मे करना काफी कठिन लगेगा लेकिन थोड़ी सी इच्छा शक्ति से सब कुछ ठीक ढंग से हो जाएगा।यात्रा से विशेष लाभ संभव है। कोर्ट के कार्यों में तेजी दिखेगी।
राशिरत्न:-पुखराज
सुझाव:-आज श्री सीताराम जी के सम्मुख घी के चार दीपक जलावें।

।। आज के दिन का विशेष महत्व ।।

1. आज बसंत ऋतु ज्येष्ठमाह कृष्ण पक्ष नवमी तिथि बुधवार है।

।। प्रेरणादाइ चौपाई ।।

देखि राम जननी अकुलानी। प्रभु हँसि दीन्ह मधुर मुसुकानी।।

अर्थ:-गोस्वामी तुलसीदास जी वर्णन करते हैं कि प्रभू श्री बालक राम की माया देख कर माता कौशल्या जब ज्यादा परेशान होने लगी तो प्रभू श्री राम मधुर मधुर मुस्कुराने लगे और तब प्रभू श्री राम माता कौशल्या जी को अपने दिव्य विराट रूप का दर्शन करने के लिए उद्यत हुवे।
शेष भाग… कल।

।। वास्तु सावधानियाँ ।।
मकान का मुख्य द्वार कभी पूर्व-अग्निकोण की तरफ नहीं होना चाहिए। अन्यथा मकान के स्वामी को हानि होती है।

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व सरस्संगीत मयश्रीरामकथा ,श्रीमद्भागवत कथा व्यास।।
।।श्री अयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हर किसी को चाणक्य की इस नीति पर चलना चाइये, पूरी जिन्दगी में नहीं होगी कोई कमी

प्राचीन समय से ही पुरुषों के लिए स्त्री