UP election 2017: मेरठ रैली में मोदी ने सपा,कांग्रेस के गठबंधन पर की आलोचना

- in चुनाव, राजनीति

मेरठ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यूपी के मेरठ में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के जिक्र से किया। PM ने कई बार सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (SP) के परिवारवाद और कांग्रेस-एसपी गठबंधन की तीखी आलोचना की। मोदी ने कांग्रेस-एसपी गठबंधन पर सवाल उठाते हुए कहा कि दोनों पार्टियां कुछ समय पहले तक एक-दूसरे को नीचा दिखाने में लगी रहती थीं, लेकिन फिर एकाएक चीजें बदल गईं और दोनों साथ हो गए।

 

 

UP election 2017: मेरठ रैली में मोदी ने सपा,कांग्रेस के गठबंधन पर की आलोचना
मोदी यादव परिवार के आंतरिक कलह और उठापटक पर भी जमकर बरसे। वह एसपी के ‘पापा, चाचा, चाची, भतीजा’ वाले परिवारवाद पर चुटकी लेते नजर आए। मोदी ने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा कि कुछ समय पहले तक कांग्रेस गांव-गांव घूमकर अखिलेश सरकार पर आरोप लगा रही थी, लेकिन अब वही कांग्रेस एसपी के साथ मिलकर ‘बचाओ-बचाओ’ चिल्ला रही है। अपने पूरे भाषण में मोदी ने जहां मेरठ के लोगों से विकास की राजनीति के नाम पर BJP को वोट देने की अपील की, वहीं उन्होंने कांग्रेस-एसपी के चुनावी गठबंधन को आड़े हाथों लिया। उन्होंने राज्य में किसानों की दुर्दशा और कानून-व्यवस्था की बदहाली की ओर भी लोगों का ध्यान खींचने की कोशिश की। पढ़िए, PM मोदी के इस भाषण की खास बातें:

अभी-अभी चुनावों से पहले मायावती को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, हिली राजनीति

अखिलेश-राहुल पर निशाना
PM ने कहा कि कुछ दिनों पहले कांग्रेस गांव-गांव रथयात्राएं निकालकर समाजवादी पार्टी सरकार के खिलाफ भाषण देते थे। उन्होंने कांग्रेस और एसपी गठबंधन पर सवाल करते हुए कहा, ‘राजनीति में गठबंधन तो देखे हैं, लेकिन ऐसा गठबंधन पहली बार देखा कि दो सुबह शाम एक दूसरे के खिलाफ … आज से नहीं.. पिछले कई दशकों से एक दूसरे को खत्म करने का कोई मौका नहीं छोड़ते थे, आज गले लगकर बचाओ बचाओ बचाओ… जो खुद को बचा नहीं सकते, वे UP को क्या बचा पाएंगे। देश की जनता ने जिन्हें देशभर में खत्म कर दिया, वही जनता UP में इन्हें क्या बचाएगी?’

 
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अमृतसर: प्रशासनिक लापरवाही की बलिहारी, पड़ी दर्जनों जिंदगियों पर भारी, 50 मौतों की पुष्टि

नई दिल्ली। देश में विजय दशमी के पावन