यूपी- 72 घंटे में IAS अनुराग तिवारी की मौत का सच सामने लाएगी …

कर्नाटक काडर के आईएएस अधिकारी अनुराग तिवारी (35) की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए एसएसपी दीपक कुमार ने विशेष जांच टीम (एसआईटी) गठित की है। सीओ हजरतगंज अवनीश मिश्रा के नेतृत्व में गठित एसआईटी 72 घंटे में जांच करके रिपोर्ट सौंपेगी।

72 घंटे में IAS अनुराग तिवारी की मौत का सच सामने लाएगी

आईएएस अधिकारी के दो मोबाइल फोन की कॉल डिटेल खंगालने के साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर भी विशेषज्ञों से राय ली जा रही है। एसएसपी ने बताया कि आईएएस अधिकारी के परिवारीजनों ने मौत को लेकर कई सवाल उठाए हैं।

उन्होंने जांच की मांग की जिस पर एसआईटी गठित करके रिपोर्ट मांगी गई है। सीओ हजरतगंज के नेतृत्व में गठित एसआईटी में इंस्पेक्टर हजरतगंज आनंद कुमार शाही, इंस्पेक्टर गाजीपुर गिरजा शंकर त्रिपाठी, इंस्पेक्टर हसनगंज उदवीर सिंह और एसओ मड़ियांव अंजनी कुमार पांडेय को रखा गया है। यह टीम आईएएस के लखनऊ आने से उनकी मौत तक के हर कदम की पड़ताल करेगी।

यह भी पढ़ें: हिन्दू शेर उपदेश राणा ने टीपू सुल्तान मस्जिद में घुसकर इमाम बरकती को धोया, वीडियो

जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उनके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। इस बीच बुधवार आधी रात के बाद परिवारीजन शव लेकर बहराइच पहुंचे जहां बृहस्पतिवार सुबह दस बजे अंतिम संस्कार किया गया।

जन्मदिन की बधाई से भरा पड़ा था वॉट्सएप का मैसेज बॉक्स

हजरतगंज पुलिस गेस्टहाउस में चार्जिंग पर लगे आईएएस के दो मोबाइल फोन की कॉल डिटेल, एसएमएस और वॉट्सएप मैसेज खंगाल रही है। एसएसपी का कहना है कि वॉट्सएप पर आईएएस के जन्मदिन की बधाई के सैकड़ों मैसेज मिले। फोन के कॉल लॉग में आईएएस की मां, परिवार के अन्य सदस्यों, दोस्तों व करीबियों के नंबर मिले हैं। पुलिस ने दोनों मोबाइल फोन की बीते एक महीने की कॉल डिटेल निकलवाई है।
loading...
=>

You may also like

CM योगी आदित्यनाथ ने किया बड़ा खुलासा: बोले- रविशंकर अयोध्या विवाद में पक्षकार नहीं…

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुलासा किया