Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > 71 देशों के न्यायविदों, कानूनविदों का लखनऊ आगमन आज

71 देशों के न्यायविदों, कानूनविदों का लखनऊ आगमन आज

दिल्ली में राजघाट पर गांधी की समाधि पर देश-विदेश की प्रख्यात हस्तियों ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये
रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन से हुई मुलाकात, राष्ट्रपति भवन में स्वागत एवं जलपान का आयोजन

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा आयोजित ‘विश्व के मुख्य न्यायाधीशों के अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन’ में प्रतिभाग हेतु 71 देशों के 370 से अधिक मुख्य न्यायाधीश, न्यायाधीश, कानूनविद् व अन्य प्रख्यात हस्तियाँ कल 16 नवम्बर को प्रातः 10.00 बजे विशेष विमान से लखनऊ पधार रहे हैं। सम्मेलन में 19 देशों के प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, गवर्नर-जनरल, पार्लियामेन्ट के स्पीकर, न्यायमंत्री, इण्टरनेशनल कोर्ट के न्यायाधीश एवं विश्व प्रसिद्ध शान्ति संगठनों के प्रमुख अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। इन सभी गणमान्य अतिथियों के लखनऊ पधारने पर चौधरी चरण सिंह एअरपोर्ट पर बैण्ड-बाजे की धुन व फूल-मालाओं के साथ भव्य स्वागत-अभिनन्दन किया जायेगा। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि देश-विदेश से पधार रहे ये सभी गणमान्य अतिथि लखनऊ पधारने के उपरान्त सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में आयोजित प्रेस कान्फ्रेन्स में पत्रकारों से रूबरू होंगे तथापि सायं 7.30 बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मुख्यमंत्री आवास, 5 कालीदास मार्ग पर आयोजित रात्रिभोज में शामिल होंगे। इससे पहले, ये सभी सम्मानित अतिथि नवीन हाईकोर्ट परिसर का अवलोकन करने जायेंगे।

श्री शर्मा ने बताया कि विभिन्न देशों से पधारे न्यायविदों, कानूनूविदों व अन्य प्रख्यात हस्तियों ने आज 15 नवम्बर को नई दिल्ली में राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की समाधि ‘राजघाट’ पर श्रद्धासुमन अर्पित किया एवं इसके उपरान्त होटल ली-मेरीडियन में सम्मेलन का पहला सत्र आयोजित हुआ, जिसमें ‘लिंग आधारित हिंसा’ विषय पर सारगर्भित परिचर्चा सम्पन्न हुई। इस परिचर्चा में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने बतौर मुख्य अतिथि पधार कर समारोह की गरिमा को बढ़ाया। इस अवसर पर अपने संबोधन में निर्मला सीतारमन ने विश्व एकता, विश्व शान्ति, मानवाधिकार, लिंग आधारित हिंसा एवं विश्व के ढाई अरब बच्चों के सुरक्षित व सुखमय भविष्य हेतु विश्व भर से पधारे न्यायविदों, कानूनविदों व अन्य प्रख्यात हस्तियों का आभार व्यक्त किया जिन्होंने आदर्श विश्व व्यवस्था के निर्माण हेतु एकमत होकर आवाज बुलन्द की है।

इसके अलावा, देश-विदेश के न्यायविदों, कानूनविदों व अन्य प्रख्यात हस्तियों के सम्मान में राष्ट्रपति महामहिम श्री रामनाथ कोविंद द्वारा राष्ट्रपति भवन में स्वागत एवं जलपान का आयोजन किया गया। इससे पहले, 14 नवम्बर की शाम को इन प्रख्यात हस्तियों के सम्मान में राष्ट्रीय आध्यात्मिक सभा, बहाई द्वारा बहाई हाउस (लोटस टेम्पल) में ‘स्वागत समारोह एवं रात्रि भोज’ का आयोजन किया गया। श्री शर्मा ने बताया कि इस ऐतिहासिक सम्मेलन का उद्घाटन 17 नवम्बर, शनिवार को प्रातः 9.00 बजे सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में सम्पन्न होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस अवसर पर मुख्य अतिथि होंगे जबकि समारोह की अध्यक्षता प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित करेंगे।

Loading...

Check Also

16 दिसंबर को साढ़े तीन घंटे प्रयागराज में गुजारेंगे पीएम मोदी

प्रयागराज : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रोटोकाल पीएमओ ने जारी कर दिया है। वह 16 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com