श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर कालिख पोतने के मामले में 6 गिरफ्तार

- in राजनीति

त्रिपुरा में रूसी क्रांति के महानायक ब्लादिमीर लेनिन की प्रतिमा ढहाने के बाद देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रतिमा तोड़ने की घटनाएं सामने आ रही हैं। लेनिन के बाद तमिलनाडु में पेरियार की प्रतिमा तोड़ी गई और अब भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा तोड़ने का मामला सामने आया है। दक्षिण कोलकाता के केवड़ातल्ला इलाके में पार्क में लगी श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा को कुछ अज्ञात लोगों ने तोड़ने की कोशिश की। इन अज्ञात लोगों ने उनकी प्रतिमा को कालिख से भी पोल दिया। अब इस मामले में छह लोगों को हिरासत में लिया गया है।

श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर कालिख पोतने के मामले में 6 गिरफ्तार

 

प्रतिमा तोड़ने पर सियासत गर्म

त्रिपुरा के बेलोनिया क्षेत्र में लेनिन की प्रतिमा गिराए जाने को लेकर देशभर में सियासत गर्म है। मंगलवार को बंगाल में माकपा व अन्य वामपंथी दलों ने जकमर विरोध प्रदर्शन व जुलूस निकाले थे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी प्रतिमा ढाहने के खिलाफ कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। इसी बीच मंगलवार की रात को दक्षिण कोलकाता के केवड़ातल्ला इलाके में पार्क में लगी श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर कुछ अज्ञात लोगों ने कालिख लगाने के साथ प्रतिमा को तोड़ने का भी प्रयास किया।

पार्क के आसापास लगे CCTV कैमरे की जांच कर रही पुलिस

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस और प्रशासन की टीम तुरंत ही प्रतिमा साफ करने में लग गई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है और पार्क के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच कर इस मामले से जुड़े लोगों को तलाश रही है। प्रतिमा के निकट कुछ पोस्टर मिले हैं, जिसपर त्रिपुरा में हुई घटना के संबंध में लिखा है। इसे लेकर कहा जा रहा है कि बदले की कार्रवाई के तहत ऐसा किया गया है। प्रतिमा तोड़ने की घटनाओं के मामले और न हो इसके लिए राज्य में अतिरिक्त सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

नीरव मोदी के ‘रिदम हाउस’ को खरीदना चाहते हैं आनंद महिंद्रा

भाजपा ने घटना की निंदा की

श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा तोड़ने के मामले में भाजपा नेता व पश्चिम बंगाल भाजपा के इंचार्ज सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा, ‘श्यामा प्रसाद मुखर्जी एक महान देशभक्त हैं, जिन्होंने देश के लिए अपना जीवन न्यौछावर किया है। वे पश्चिम बंगाल के बेटे हैं। जो भी इस मामले में आरोपी हैं उनकी गिरफ्तारी होनी चाहिए। सीएम ममता बनर्जी को प्रतिमा तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। हम इस घटना की घोर निंदा करते हैं।’

वहीं, पश्चिम बंगाल के मंत्री सोवन्दब चट्टोपाध्याय ने कहा, ‘प्रतिमा तोड़ने की एक घटना का जवाब दूसरी प्रतिमा तोड़ना नहीं दिया जाना चाहिए। हम दोनों की घटनाओं की कड़ी निंदा करते हैं। हमने इस मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार किया है और हम क्षतिग्रस्त श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा का दोबारा निर्माण करेंगे।’

 

प्रतिमा तोड़ने की घटनाओं से नाराज PM 

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रतिमा तोड़ने की घटनाओं पर नाराजगी जताई है। जानकारी के अनुसार उन्होंने इस संबंध में गृहमंत्रालय से बात की है और उन्हें इस मामले में सख्त दिखाने को कहा है। वहीं, गृहमंत्रालय ने सभी राज्यों में एडवाइजरी जारी की है।

You may also like

जवानों की हत्या को लेकर केजरीवाल ने PM मोदी से मांगा जवाब

बीएसएफ जवान नरेंद्र सिंह की शहादत के बाद