Home > ज़रा-हटके > 50 रुपए का ये चूर्ण खाकर 60 साल का बूढ़ा भी कहेगा कि अभी तो मैं जवान हूं

50 रुपए का ये चूर्ण खाकर 60 साल का बूढ़ा भी कहेगा कि अभी तो मैं जवान हूं

दोस्तों आज की भागदौड भरी जीवन शैली की वजह से लोग अपने शरीर का ध्यान रखना भूल जाते है जिसकी वजह से हमारा शरीर धीरे-धीरे कमजोर होने लगता, इसके अलावा कुछ लोग घर-परिवार की चिंता व शारीरिक रोग होने के चलते जल्द ही ज

ये चूर्ण खाकर 60 साल का बूढ़ा भी कहेगा कि अभी तो मैं जवान हूंहमारी सेहत का सबसे बड़ा शत्रु चिंता होती है जो कि अच्छे भले इंसान को बूढ़ा बना देती है। आपको बता दें कि यदि आप समय से पहले बूढ़े नहीं होना चाहते हैं तो आप सबसे पहले ध्यान रखे कि घर की चिंता करना छोड़ दीजिए, बाहर धूमे फिरे, दोस्तों के साथ टाइम बिताए, अच्छा खाना खाए, बरपूर नींद ले। इसके अलावा हम आज आपको एक ऐसा उपाय बताने जा रहे हैं जिसे करने से आप फिर से जवान दिखने लगेंगे।

सामग्री

  • 100 ग्राम आंवले का चूर्ण
  • 100 ग्राम काले तिल का चूर्ण
  • 100 ग्राम भृंगराज का चूर्ण
  • 100 गोखरू का चूर्ण
  • 400 ग्राम पीसी हुई मिस्री
  • 100 ग्राम गाय का घी
  • 300 ग्राम शहद

नोट – ध्यान रहे कि घी और शहद समान मात्रा में कभी न लें। घी और शहद का इस्तेमाल बराबर मात्र में ना करें यह जहर बन जाता है।

बनाने की विधि : 

पहले इन सभी चूर्णों को मिला लीजिए। फिर इस में मिस्री मिला लीजिए। अब आखिर में गाय का घी और शहद मिला लीजिए। अब इस चूर्ण को किसी कांच के बर्तन या चीनी के बर्तन में सुरक्षित रख ले। अब रोज खाली पेट इस चूर्ण की एक चम्मच का सेवन करें और उसके बाद गाय का दूध या गुनगुना पानी पीजिए।

इसके अद्भुत फायदे : 

इस चूर्ण के इस्तेमाल करने से आपके झड़े हुए बाल वापस उग आएगे। यदि बाल सफेद है तो यह धीरे-धीरे काले हो जाएंगे। दांत में मजबूती आएगी, चहेरे की चमक फिर से वापस आ जाएंगी। शरीर में ताकत आएगी। धीरे धीरे आपका वजन भी समान्य हो जाएगा।

 

Loading...

Check Also

कोई भी नहीं जानता होगा लेकिन सच्चाई यही है की, मात्र इतने रुपये होती है लडकियों की देह की कीमत

दुनिया में कई अजीब रीती रिवाज आज भी हैं लड़कियों के देह व्यपार का धंधा …

One comment

  1. जानकारी देनें के लिए बहुत बहुत धन्यवाद आपका।।। जय हो।।। जयश्रीराधेकृष्ण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com