बारिश के बाद गाजियाबाद के खोड़ा में धराशाई हुई 5 मंजिला इमारत

- in दिल्ली
खोड़ा के लोकप्रिय विहार में शुक्रवार शाम पांच मंजिला इमारत गिर गई। बिल्डिंग गिरने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। हालांकि प्रशासन का कहना है कि इमारत को पहले ही खाली करा लिया गया था। इमारत के दोनों ओर सड़क होने के कारण किसी के दबे होने की आशंका के चलते मलबा हटाया जा रहा है। हादसे के बाद एनडीआरएफ और पुलिस टीम मलबा हटाने में जुटी हुई है।

      

खोड़ा के लोक प्रिय विहार स्थित इतवार बाजार पुश्ता रोड पर मोहम्मद रफीक की पांच मंजिला बिल्डिंग है। बिल्डिंग बने करीब दस वर्ष हो चुके हैं जो एक कपड़ा कारोबारी ने किराए पर लिया था। करीब दस दिन पहले एनएच-24 पर निर्माण कार्य के दौरान हाईड्रोलिक क्रेन बिल्डिंग में घुस गई थी। इस कारण बिल्डिंग और पिलर में दरार आ गई थी। 

शुक्रवार शाम करीब साढ़े सात बजे बिल्डिंग आगे की तरफ झुकने लगी और देखते ही देखते बिल्डिंग भरभराकर गिर गई। इस दौरान धमाके के साथ आसमान में धूल का गुबार उड़ने लगा। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। करीब आधे घंटे में पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने दो जेसीबी लगाकर मलबा हटाने का काम शुरू किया। मौके पर डीएम और एसएसपी समेत आला अधिकारी भी कुछ देर में पहुंच गए। 

प्रशासन ने दावा किया कि इमारत के अंदर रहने वाले लोगों को पहले ही बाहर निकाल लिया गया था। डीएम रितु माहेश्वरी का कहना है कि पांच मंजिला इमारत गिरी है, जिसके बाद राहत कार्य जारी है। सड़क पर कुछ लोगों के मलबे की चपेट में आने की आशंका के चलते राहत कार्य जारी है। प्रशासन और एनडीआरएफ की टीम राहत कार्य में जुटी है।
       
वहीं एनडीआरएफ की दो टीम रात करीब साढ़े नौ बजे मौके पर पहुंची। टीम ने डॉग स्कवायड की मदद से बिल्डिंग में लोगों के दबे होने के आशंका को देखते हुए तलाश शुरू की।       

लोगों ने निकाला कर्मचारियों को       
इमारत में भूतल और प्रथम तल पर शोरूम था। दूसरी मंजिल पर कुछ कर्मचारी रहते थे। बिल्डिंग झुकती देख पास में रहने वाले लोगों ने उन्हें बाहर निकाल लिया। इस कारण बड़ा हादसा होने से बच गया।

दो महीने में दो बार हो चुका था बिल्डिंग में हादसा      
खोड़ा में जो बिल्डिंग गिरी है उसमें 18 जुलाई को हाइड्रोलिक क्रेन घुस गई थी। इससे पहले 18 जून को बिल्डिंग में आग लग गई थी। इस कारण इमारत पूरी तरह से कमजोर हो गई थी। इसकी जानकारी लोगों ने प्रशासन और पुलिस को दी थी, लेकिन किसी ने भी कोई कार्रवाई नहीं की।

भीड़ लगी, लगा जाम 
एनएच-24 के सामने ही बिल्डिंग है। इस कारण लोगों की काफी भीड़ घटनास्थल और एनएच-24 पर जुट गई। एनएच-24 से जाने वाले वाहन चालक भी खड़े होकर देखने लगे। इससे एनएच 24 पर जाम लग गया। देर रात तक एनएच-24 पर जाम लगा रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आज से 15 दिनों के लिए लौटा मानसून, दिल्ली-UP सहित इन राज्यों में होगी तेज बारिश

नई दिल्ली: 21 सितंबर यानी शुक्रवार से दिल्ली समेत