दो दिन पहले ऑपरेशन में दो नक्सली किए थे ढेर

दो दिन पहले बीते 4 जुलाई को एक ज्वाइंट सर्च ऑपरेशन में पुलिस बल ने 2 मुठभेड़ों में 2 नक्सलियों को मार गिराया था. इस कार्रवाई में बड़ी मात्रा में हथियार और साहित्य जब्त किया गया था.नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में जिला बल, छत्तीसगढ़ सुरक्षाबल, एसटीएफ, आईटीबीपी की ओर से लगातार नक्सल विरोधी अभियान चलाया जा रहा है.

विकास विरोधी नक्सली बौखलाए

मुठभेड़ के संबंध में पुलिस आईजी बस्तर रेंज विवेकानंद सिन्हा ने बताया था कि सड़क निर्माण कार्य की प्रगति देख विकास विरोधी नक्सली बौखलाए हुए थे. वे सुरक्षा बलों को बड़ी क्षति पहुंचाने के फिराक में लगातार सक्रिय थे. नक्सलियों की सूचना लगातार मिलने पर 2 जुलाई को नक्सल ऑपेरशन प्लान तैयार कर रात्रि में डीआरजी की 4 पार्टी को ग्राम बालेबेड़ा, बड़ापेन्दा, कंगाली, परबेड़ा, इरपानार की ओर और डीआरजी व एसटीएफ की 3 पार्टी को ग्राम इरपानार, करकाबेड़ा, मरकूर, जड्डा, गोंगला की ओर रवाना किया गया था.

ये हथियार हुए थे बरामद

नक्सल ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच अलग-अलग दो स्थानों पर मुठभेड़ हुई थी. मुठभेड़ के बाद पुलिस पार्टी के घटनास्थल का सर्च करने पर 2 वदीर्धारी पुरुष नक्सली का शव और विदेशी निर्मित ऑटोमेटिक सब मशीनगन 1 नग,12 बोर बंदूक-1 नग व भरमार बदूंक 1 नग बरामद करने में सफलता मिली.