3 महीनों में ही कपल्स का प्यार पड़ जाता है फीका !

- in जीवनशैली

कपल्स का प्यार – वैसे तो अपने रिश्‍ते को बरकरार रखने के लिए कइ तरह की चुनौतियां आती हैं लेकिन सबसे मुश्किल चुनौती होती है दोनों पार्टनर्स के बीच जोश को बरकरार रख पाना।3 महीनों में ही कपल्स का प्यार पड़ जाता है फीका !

हाल ही में एक स्‍टडी में ये बात सामने आई है कि कपल्स का प्यार 3 महीने में ही खोने लगता है।

कपल्स का प्यार –

क्‍या कहती है स्‍टडी

लीडिंग मेडिकल रिसर्च जर्नल बीएमजे की ओर से करवाए गए एक ओपन सर्वे के मुताबिक 34 प्रतिशत महिलाओं और 15 प्रतिशत कमिटेड पुरुषों में अपने रिलेशनशिप के महज़ तीन महीनों में ही सेक्‍स में दिलचस्‍पी कम होने लगी साथ ही इन लोगों ने यह भी बताया कि 3 महीने के अंदर ही इनके बीच आकर्षण भी कम होने लगा था।

इस मामले में महिलाएं ज्‍यादा आगे थीं। सर्वे के दौरान इस बात का खुलासा भी हुआ कि किसी रिश्‍ते में अगर एक पार्टनर रिलेशन में दिलचस्‍पी खो देता है तो ये उसके जेंडर पर भी निर्भर करता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि किसी कमिटेड रिलेशनशिप में रहने के दौरान पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्‍यादा जल्‍दी सेक्‍स में दिलचस्‍पी खो देती हैं।

इस सर्वे में शामिल होने वाली महिलाओं का कहना था कि पार्टनर के साथ उनकी सेक्‍शुअल कंपैटिबिलिटी बेहतर नहीं थी और पार्टनर के साथ एक जैसा सेक्‍शुअल इंट्रेस्‍ट ना होना भी उनकी दिलचस्‍पी कम होने की एक वजह है।

सेक्‍स में पसंद-नापसंद का मेल ना खाना भी इनके बीच  कम होते प्‍यार की एक वजह है। शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि किसी गंभीर रिलेशनशिप में कपल्‍स के बीच अगर कामेच्‍छा में कमी आती है तो इसके पीछे उनकी बढ़ती उम्र भी जिम्‍मेदार होती है।

जैसे-जैसे कपल्‍स की उम्र बढ़ती है वैसे-वैसे उनके बीच अट्रैक्‍शन कम होता जाता है।

एक्‍सपर्ट्स का कहना है कि कपल्‍स को पूरी कोशिश करनी चाहिए कि उनके प्‍यार में कभी कोई कमी ना आए और सबसे खास बात तो ये है कि ये कोशिश दोनों पार्टनर्स को मिलकर करनी चाहिए। किसी एक के कोशिश करते रहने और दूसरे के उदासीन बने रहने से कुछ नहीं होगा। अपने रिश्‍ते पर नीरसता को हावी ना होने दें।

एक-दूसरे की पसंद-नापसंद का ध्‍यान रखें और उनके बारे में जानकारी हासिल करें। अगर समय के साथ आपके पार्टनर के बिहेवियर में कोई बदलाव आता है तो उसके बारे में आपको पता होना चाहिए।

लंबे समय तक किसी रिश्‍ते में साथ रहने के बाद शारीरिक संबंध बनाने और आकर्षण में कमी होना एक आम बात है। लेकिन इस समस्‍या को पार्टनर से छिपाने की बजाय आपको उनके इस बारे में खुलकर बात करनी चाहिए। जब कोई मुश्किल है तो उसका हल भी जरूर होगा।

अगर आप उनसे प्‍यार करते हैं तो आपको उन्‍हें खुद से दूर नहीं जाने देना चाहिए। अकसर मर्द अपने दिल की बात खुलकर नहीं कह पाते हैं और यही उम्‍मीद करते हैं कि उनकी पार्टनर बिना कहे ही उनकी हर जरूरत को समझ ले लेकिन आपको भी ये समझना चाहिए कभी-कभी रिश्‍ते में बोलने की जरूरत पड़ जाती है। अगर आप खुलकर उनसे अपने दिल की बात करेंगें तो वो आपकी बात जरूर समझेंगीं।

कपल्स का प्यार जिन्दा रहे इसलिए प्‍यार को बरकरार रखने के लिए बात करनी जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

किन्नर को भूल से भी कभी नहीं देना चाहिए ये एक चीजें, वरना हो जाओगे बर्बाद

शास्त्रों की अगर मानें तो किन्नर कि दुआ