मछली के इस जोड़े को घर में लटकाना होता है बहुत शुभ…

- in धर्म

डॉलफिन फिश: 
मछलियों के जोड़े को घर में लटकाना बहुत शुभ एवं सौभाग्यदायक माना जाता है। इनके प्रभाव से घर में धन की बरकत और कार्यक्षेत्र में उन्नति होती है। इन्हें बृहस्पतिवार अथवा शुक्रवार को घर में टांगना शुभ होता है। मछली के इस जोड़े को घर में लटकाना होता है बहुत शुभ...
क्रिस्टल बॉल: 

यह बॉल स्फटिक से बनी होती है। जिन लोगों के घर-परिवार में अशांति बनी रहती हो, निराशा की भावना हर समय घेरे रहती हो, उन्हें इस बॉल को अपने घर अथवा कार्यालय में टांगना चाहिए इससे सकारात्मक ऊर्जा की वृद्धि होती है। इससे काम में मन अधिक लगता है और जीवन में खुशहाली लौटती है। इसे सोमवार, बुधवार अथवा शुक्रवार को स्थापित करना चाहिए। 

पारद पिरामिड: 
जीने के लिए 5 तत्वों की परम आवश्यकता होती है। इन 5 तत्वों के आगमन की दिशाएं निर्धारित हैं। प्रत्येक तत्व अपनी निश्चित दिशा से प्रवेश और गमन करता है। यह क्रिया मानव जीवन के लिए अत्यन्त आवश्यक है। विभिन्न दिशाओं से प्रवेश करने वाली आकाशीय ऊर्जा अवरूद्ध होने से वास्तु के नियम भंग होते हैं तथा जहां आकाशीय ऊर्जा अवरूद्ध या प्रभावित होती है, उन घरों में वास्तु दोष माना जाता है। पारद पिरामिड अल्प मूल्य का उपाय है। घर कार्यालय अथवा कोई भी कार्यस्थल हो, वहां यह पिरामिड रखने से आकाशीय ऊर्जा अधिक मिलती है, जिसके फलस्वरूप शरीर की अनेक बीमारियां धीरे-धीरे नष्ट हो जाती हैं। घर में शांति का वातावरण बना रहता है। आर्थिक स्थिति खुद ही सुधरने लग जाती है। पारद एक विशेष धातु है। इसे विशिष्ठ शास्त्रीय विधि से बनाया जाता है। किसी विश्वसनीय दुकान से शुभ मुहूर्त में इसे खरीद कर पूजा स्थल पर स्थापित करने से अथवा घर के उत्तरी क्षेत्र में रखने से लाभ होता है। 

नवग्रह पिरामिड: 

नवग्रह पिरामिड की पूजा सभी जातकों के लिए श्रेष्ठ मानी गई है। प्राचीन काल में प्रायः सभी ऋषि मानव पिरामिड का उपयोग करते थे। यह पिरामिड धातु काष्ठ, रत्न, पत्थर, सोना, चांदी, तांबे, पारे, अष्ट धातु, पंच धातु आदि से निर्मित किया जाता है। आयुर्वेद शास्त्र के प्रमुख आचार्यों चरक तथा सुश्रुत ने बहुत विस्तार से स्पष्ट किया है कि औषधि लेने के अतिरिक्त रोगों के निवारणार्थ पारे के शिवलिंग एवं पिरामिड की उपासना अवश्य करनी चाहिए। इसकी उपासना जितनी सरल है, उतनी ही लाभकारी भी है। यह पिरामिड स्थापित करने से धन की वृद्धि होती है। कार्यालय में मन अशांत एवं परेशान रहने पर इसे मेज के ऊपर सामने रखकर लिखने-पढ़ने आदि कार्य करने से परेशानी और मन को अशांति दूर होती है। वाहन में यात्रा के समय जब सब खिड़कियां दरवाजे बंद होते हैं, तो ब्रह्मांडीय ऊर्जा का प्रवेश कम हो जाता है। ऐसी स्थिति में यह पिरामिड सामने रख कर यात्रा करने से ब्रह्मांडीय ऊर्जा निरंतर मिलती रहती है। फलस्वरूप यात्रा में परेशानी की बजाए आनंद और स्फूर्ति का अनुभव होता है।
=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

22 मई 2018 दिन मंगलवार का राशिफल एवं पंचांग: जानिए आज किस पर कृपा होगी बजरंगबली की

।।आज का पञ्चाङ्ग।। आप सभी का मंगल हो