2019 में नरेंद्र मोदी ही बनेंगे विपक्षियों की सबसे बड़ी चिंता का कारण

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानि एनडीए के 33 राजनीतिक दलों की एक बैठक हुई. इस बैठक में जो निर्णय लिए गए हैं उनमें से एक निर्णय ऐसा है जो विपक्षी दलों की पहले से ही उड़ी नींद को और हराम करने के लिए काफी है.

बड़ी खबर: सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार को लगाई फटकार, पूरी पार्टी में मचा हडकंप

एनडीए के कुनबे  कई फैसलों के अलावा यह भी तय किया है कि आगामी 2019 का चुनाव के लिए मोदी के नेतृत्व में एकजुट होकर जीतने के लिए काम करने का करना है. पार्टियों के समूह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को देशहित में बताया है. इस बैठक में राजग का दायरा बढ़ाने पर भी विचार किया गया और संभावनाएं तलाशने पर जोर दिया गया कि नए दल एनडीए का हिस्सा बनें.

इस  बैठक में पिछले दो सालों से लगातार बीजेपी  पर हमलावर शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे भी मौजूद थे. कहा जा रहा है कि ठाकरे ने इस बैठक में केंद्र सरकार की गरीबोन्मुखी योजनाओं और पीएम मोदी के नेतृत्व की प्रशंसा की.

नूर खूबसूरत लेकिन खतरनाक, इस जासूस से हिटलर भी खाता था खौफ

बैठक में पारित प्रस्ताव में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कठोर परिश्रम, अपार निष्ठा और पूर्ण समर्पण के साथ देश का नेतृत्व करते हुए मजबूत भारत के निर्माण के पथ पर सतत आगे बढ़ रहे हैं.

राजग के सभी घटक और भारत की आम जनता प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई इस विकास यात्रा की सहभागी है. प्रस्ताव में कहा गया है कि राजग यह विश्वास जताता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश सामजिक समानता, आर्थिक सशक्तिकरण के लिए काम करते हुए समाज के गरीब से गरीब व्यक्ति के जीवन में बदलाव लाने के प्रति प्रतिबद्ध है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में राजग सरकार अपनी सफलताओं और चुनौतियों दोनों को एक अवसर के रूप में लेते हुए और बेहतर करने की दिशा में आगे बढ़ने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जाहिर करता है.

पारित प्रस्ताव में कहा गया है कि पिछले तीन वर्षों में भारत का हर नागरिक तेजी से हो रहे बदलावों और पारदर्शिता को महसूस किया है, इसके लिए प्रधानमंत्री एवं उनके नेतृत्व की सरकार बधाई की पात्र है.

एनडीए के घटक दलों ने यह माना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राजग सरकार घोटालों से मुक्त व्यवस्था, विवेकपूर्ण नीति प्रबंधन, एवं पारदर्शिता और जवाबदेही बढ़ी है. भारत में निवेश को बढाने के लिए नरेंद्र मोदी जी ने कारोबार में सुगमता की दृष्टि से तमाम प्रयास किए जिनका लाभ देश को मिल रहा है. इसके तहत मेक इन इण्डिया, स्टार्टअप योजना, स्टैंड अप योजना के उद्देश्यों को पूरा करने में भी मदद मिल रही है.

बैठक में राष्ट्रीय जनतान्त्रिक गठबंधन ने केंद्र सरकार की विदेश नीति एवं कुटनीतिक पहलों की सराहना की और कहा इनकी बदौलत भारत की साख वैश्विक पटल पर मजबूत हुई है. दुनिया की बड़ी ताकतों के साथ द्विपक्षीय संबंधों के मामले में सरकार का पिछला तीन वर्ष बेहद महत्वपूर्ण रहा है. राष्ट्र सुरक्षा की दृष्टि से सर्जिकल स्ट्राइक जैसा मजबूत इच्छशक्ति वाला निर्णय भारत में चल रही सरकार के निर्णयकारी छवि को दिखाता है.

प्रस्ताव में यह भी कहा गया कि देश की जनसंख्या का एक बड़ा हिस्सा सामाजिक सुरक्षा से वंचित था. लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में राजग सरकार द्वारा स्वास्थ्य बीमा, जीवन सुरक्षा बीमा, पेंशन योजनाओं के माध्यम से उन्हें समाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा देने का काम किया गया है. प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के माध्यम से सरकार समाज के अंतिम छोर के गरीब से गरीब व्यक्ति की सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने का काम कर रही है.  राजग सरकार का प्रथम तीन वर्ष पूरी तरह से गरीबी उन्मूलन, सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण एवं आर्थिक विकास की आधारशिला रखने के प्रति समर्पित रहा है. सबका साथ और सबका विकास ही हमारी मूल वैचारिक निष्ठा में अंतर्निहित है. लोक कल्याण के प्रति समर्पण की सोच और विकास परक दृष्टि ही राजग सरकार के सुशासन प्रणाली की मूल पहचान है.

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ने इस प्रस्ताव के जरिए यह माना कि एनडीए को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को उनके नेतृत्व में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक जनादेश मिला है.

 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button