200 कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से 90 जनरथ एसी बसों का संचालन ठप, यात्री परेशान

साथी को सस्पेंड किए जाने से भड़के अवध डिपो के ड्राइवरों ने शनिवार को चक्काजाम कर दिया। 200 कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से 90 जनरथ एसी बसों का संचालन ठप है, जिससे यात्रियों को गर्मी में भारी असुविधा हो रही है।200 कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से 90 जनरथ एसी बसों का संचालन ठप, यात्री परेशानजानकारी के अनुसार अवध डिपो का बस ड्राइवर हरिनाम शुक्रवार को जब महोबा से यात्रियों को लेकर लखनऊ लौटा तो फोरमैन ने उससे बस का शीशा सही कराने को कहा। इस पर हरिनाम ने कहा कि मैंने डबल शिफ्ट ड्यूटी की है इसलिए ये काम किसी और को दे दीजिए। फोरमैन ने इसकी शिकायत सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक आमरीन रिजवी से की तो उन्होंने तत्काल हरिनाम को सस्पेंड कर दिया।

हरिनाम के सस्पेंशन की खबर जब अन्य साथियों को मिली तो सभी भड़क उठे। शनिवार को सभी ने चक्का जाम कर दिया। इसके बाद कर्मचारियों ने डिपो परिसर में ही सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। हरिनाम को बहाल करने की मांग की जा रही है।

हड़ताल से डिपो की 90 से अधिक चलने वालीं जनरथ एसी बसें जस की तस खड़ी हैं। इससे दिल्ली, इलाहाबाद, आगरा, कानपुर, गोरखपुर, गोंडा समेत अन्य जिलों को जाने वाले यात्रियों को गर्मी में काफी दिक्कतें हो रही हैं।

बता दें कि जनता एसी बसों का किराया अन्य एसी बसों की तुलना में कम है। इसलिए इसमें यात्रियों की भारी भीड़ होती है। सों का चक्का जाम होने से गर्मी में यात्रियों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मुलायम ने शिवपाल को छोड़ा बीच मझधार, बेटे का दिया साथ

समाजवादी पार्टी के यादव कुनबे में चल रहे