20 से 25 लाख रुपये लेकर कराते थे एमबीबीएस में दाखिला, UP-STF ने किया पर्दाफाश

नोएडा। मेडिकल कॉलेज में दाखिले के नाम पर फर्जीवाड़े का बड़ा मामला सामने आया है। मामले में यूपी एसटीएफ की नोएडा यूनिट ने फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह के दो सदस्यों को गाजियाबाद के थाना लिंक रोड क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान विधना हमीरपुर निवासी आशीष कुमार उर्फ कुलदीप सिंह और कूरिया महोबा निवासी सुधीर सिंह उर्फ देवेश तिवारी के रूप में हुई है। इससे पहले भी नोएडा समेत दिल्ली एनसीआर में मेडिकल में दाखिले के नाम पर फर्जीवाड़े के कई मामले सामने आ चुके हैं।20 से 25 लाख रुपये लेकर कराते थे एमबीबीएस में दाखिला, UP-STF ने किया पर्दाफाश

एसटीएफ नोएडा के प्रभारी एसपी राजीव नारायण मिश्रा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के पास से 23 मोबाइल फोन, 3 लैंडलाइंड फोन, 3 डायरी, 270 गाइडेंस प्वाइंट कम्पनी के इन्फॉर्मेशन फॉर्म, 1280 नीट के माध्यम से मेडिकल परीक्षा में सम्मिलित हुए अभ्यर्थियों की सूची, 1 आगन्तुक रजिस्टर, 3 फर्जी मोहरें, 2 फर्जी आधार कार्ड, एमसीआई के नाम से 2 फॉर्म, गवर्नमेंट नॉमिनी कोटे के फॉर्म मय ओएमआर शीट, 4 बैंक ड्राफ्ट, 30 हजार रुपये नगद, 5 आइडिया सिम पैक और 1 हाथ से लिखी हुई प्रश्नोत्तरी बरामद हुई है।

एसटीएफ के डीएसपी राजकुमार मिश्रा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी एमबीबीएस में दाखिले के नाम पर फर्जीवाड़ा करने के लिए संगठित गिरोह चलाते हैं। ये गैंग छात्रों को विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में अलग-अलग कोटे के तहत दाखिले का झांसा देता है। इसके लिए यह एक छात्र से 20 से 25 लाख रुपये वसूलते हैं। इनके द्वारा दाखिले के लिए की जाने वाली पूरी प्रक्रिया और भरवाए जाने वाले फार्म आदि सब फर्जी होते हैं। एसटीएफ गिरोह के अन्य सदसयों की तलाश कर रही है।

Loading...

Check Also

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामला : ब्रजेश ठाकुर की पत्नी की 40 डेसिमल जमीन जब्त करने का आदेश

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामला : ब्रजेश ठाकुर की पत्नी की 40 डेसिमल जमीन जब्त करने का आदेश

एक स्थानीय अदालत ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में दुष्कर्म के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com