दिल्ली में एक घर से मिले 11 शव, हत्या है या आत्महत्या

- in दिल्ली, राज्य

नई दिल्ली। दिल्ली के बुराड़ी इलाके में दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक घर से 11 शव मिले हैं। घटना के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मौके पर पहुंच घटना की जानकारी ली। पुलिस से घटना संबंधी जानकारी लेने के बाद सीएम केजरीवाल ने मीडिया से भी बात की उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ी घटना ही है। पुलिस इस मामले की खोजबीन में लगी है।

एक ही घर से बरामद हुए शव 

सभी शव एक ही घर से बरामद हुए हैं। मामला उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी के संत नगर इलाके का है। बरामद किए गए शव सात महिलाओं और चार पुरुषों के हैं। जानकारी के मुताबिक, दो परिवारों के कुल 11 लोग एक ही घर में फांसी के फंदे पर लटके मिले। बताया जा रहा है कि फंदे पर लटके 10 शवों के आंखों पर पट्टी बंधी थी, जबकि एक शव जमीन पर पड़ा हुआ था। 

मृतकों में तीन नाबालिग शामिल

पुलिस के जॉइंट सीपी ने कहा कि मृतकों में तीन नाबालिग भी शामिल हैं। पुलिस ने बताया कि 11 लोगों के परिवार में दो भाई और उनकी पत्नियां थीं। दो लड़के करीब 16 से 17 साल के थे। मृतकों में एक बुजुर्ग मां और बहनें शामिल हैं। पुलिस के बताया कि 10 लोग फंदे से लटके मिले हैं जबकि एक बुजुर्ग महिला का गला दबाया हुआ है। 10 लोग जो फंदे से लटके मिले हैं वह सभी फर्स्ट फ्लोर पर मिले हैं।

पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए शव

जानकारी के मुताबिक पुलिस को सुबह साढ़े सात बजे शवों की सूचना मिली। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि यह सामूहिक हत्या का मामला है या सामूहिक आत्महत्या का। इस बीच मौके पर पहुंची पुलिस घटनास्थल का मुआयना कर रही है।

सामूहिक हत्या या आत्महत्या, जांच शुरू

पुलिस का कहना है कि सभी पहलुओं से मामले की जांच की जा रही है, ताकि इसके पीछे की वजहों को सामने लाया जा सके। हालांकि शुरुआती तौर पर पुलिस इसे खुदकुशी का मामला ही मान रही है। वहीं, एक ही घर से 11 शव बरामद होने से इलाके में हड़कंप मच गया है। कहा जा रहा है कि मरने वाले लोग दो भाइयों के परिवार वाले हैं। इनमें से एक का प्लाईवुड का कारोबार था और दूसरे की परचून की दुकान थी।

पड़ोसी ने देखा भयंकर मंजर 

जानकारी के मुताबिक रविवार सुबह करीब 7:30 बजे एक पड़ोसी परिवार को देखने के लिए गया। लेकिन अंदर घुसते ही उसे दरवाजा खुला मिला, आगे बढ़ा तो वो भयानक मंजर देखकर वो भी सहम गया। तत्काल पड़ोसी ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस की छानबीन जारी है, आसपास के सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला जा रहा है। पुलिस के मुताबिक एक बुजुर्ग महिला अपने दो बेटों के 11 लोगों के परिवार के साथ करीब दो दशकों से यहां रह रहीं थीं। बुजुर्ग महिला का एक तीसरा बेटा भी है, चित्तौड़गढ़ में रहता है। वहीं, उसकी एक विधवा बेटी (58 साल) भी उनके साथ रहती थी। यह परिवार मूल रूप से राजस्थान का रहने वाला था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों