केरल में बाढ़ से अब तक मरने वालों की संख्या लगभग हुई 100, आज शाम PM मोदी करेंगे दौरा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केरल में बाढ़ के हालात का जायजा लेने के लिए शुक्रवार शाम वहां जाएंगे. मोदी ने ट्वीट किया कि केरल में बाढ़ की वजह से बने दुर्भाग्यपूर्ण हालात का जायजा लेने के लिए वह शाम तक केरल पहुंच जाएंगे. प्रधानमंत्री ने शुक्रवार सुबह केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन से बात की. मोदी ने कहा, ‘ हमने राज्यभर में बने बाढ़ के हालात पर चर्चा की और बचाव अभियान का जायजा लिया. केरल में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है. इसके अलावा, कई घरों में पानी भर गया और सड़कों को नुकसान पहुंचा वहीं कई स्थानों पर हवाई और रेल यातायात बाधित हुआ.केरल में बाढ़ से अब तक मरने वालों की संख्या लगभग हुई 100, आज शाम PM मोदी करेंगे दौरा

अधिकारियों ने बताया कि आठ अगस्त से भारी बारिश औ बाढ़ की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. मानसूनी बरसात से पिछले दो दिनों में ही 55 लोगों की जान गई है. भारतीय नौसेना ने त्रिचुर, अलूवा और मवूत्तुपुझा में फंसे हुए लोगों को हवाई मार्ग से निकाला है. वीडियो में दिखाया गया है कि लोग जलमग्न घरों की छतों और पहाड़ों पर हैं और नौसेना हेलीकॉप्टरों के जरिए निकाल रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों पर रक्षा मंत्रालय ने राज्य में राहत और बचाव कार्य के लिए सेना की तीन इकाइयों की नयी टीमें भेजी हैं. राज्य में 1.5 लाख से ज्यादा बेघर और विस्थापित लोग राहत शिविरों में हैं. सूत्रों ने बताया कि राज्य के 14 जिलों में से एक को छोड़ कर सभी हाई अलर्ट पर हैं. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के करीब 540 कर्मियों की 12 सीटों को भी केरल भेजा गया है.

राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) ने केरल में करीब एक सदी में आई सबसे भीषण बाढ़ की वजह से तेजी से बिगड़ती स्थिति की समीक्षा के लिए नयी दिल्ली में बैठक की. कैबिनेट सचिव पीके सिन्हा की अध्यक्षता में हुई बैठक में थल सेना, नौसेना और वायु सेना प्रमुखों के अलावा, गृह, रक्षा सचिवों समेत अन्य शीर्ष अधिकारियों ने शिरकत की.

स्थिति की गंभीरता पर संज्ञान लेते हुए उच्चतम न्यायालय ने मुल्लापेरियार बांध की आपदा प्रबंधन समिति को आदेश दिया है कि बांध में जलस्तर को तीन फुट घटा कर 139 फुट पर लाने का तत्काल फैसला करे. कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे ने आज सभी सेवाओं की निलंबन की अवधि 26 अगस्त दोपहर दो बजे तक के लिए बढ़ा दी है. हवाई अड्डे के अधिकतर हिस्से में पानी भर गया है. कोच्चि मेट्रो की सेवाएं भी कुछ वक्त के लिए बाधित हुई क्योंकि मुत्तम यार्ड में जलस्तर बढ़ गया था.बाढ़ की वजह से रेल सेवा भी प्रभावित हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच