10 Board एग्जाम में पास होने के लिए स्टूडेंट ने अपनाये ऐसे-ऐसे तरीके, जिसे पढ़कर उड़ जायेंगे होश

- in गजब

उत्तर प्रदेश में नकल पर सख्ती का ही असर था कि 10वीं और 12वीं की परीक्षा शुरु होने के दूसरे दिन ही 5 लाख से ज्यादा छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी थी। चौथे दिन ये आंकड़ा 10 लाख को पार कर गया था। यूपी में इस बार करीब कुल 66 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी थी। बिहार में बड़े पैमाने बोर्ड में हुई धांधली और खुलासे के बाद यूपी सरकार ने बोर्ड ने टॉप करने वाले छात्रों की कॉपियों को सार्वजिनक करने का फैसला किया है। डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा जनवरी में इसकी घोषणा की थी। यूपी बोर्ड की हाई स्कूल परीक्षा 2018 का रिजल्ट अप्रैल के दूसरे सप्ताह आ सकता है। जबकि 12वीं के परीक्षा परिणाम 2018 मई में जारी किए जाने की संभावना है। जिसके कारण यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडियट की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य जोरों पर है। लेकिन इन्हीं पुस्तिकाओं में कुछ उत्तर पुस्तिका ऐसी भी सामने आ रही हैं, जिन्हें देखकर आप भी हैरान हो जाएंगे। मूल्यांकन हो रही ऐसी ही कुछ पुस्तिकाएं सामने आई है जो इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है। जिन्हें देखकर यकीन मानिये आप अपनी हंसी नही रोक पाएंगे।
तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसी ही आंसर शीट्स दिखाने वाले है जिसे पढ़कर आप भी हंस-हंस कर लोटपोट हो जायेंगे।

आई लव माई पूजा..

“आई लव माई पूजा.. सरजी इस लव स्टोरी ने मुझे पढ़ाई से दूर कर दिया नहीं तो मैने हाईस्कूल तक खूब पढ़ाई की थी। ये चिट्ठी लिखने के लिए सॉरी.. ” ये चिट्टी 12वीं के एक छात्र ने अपनी यूपी बोर्ड परीक्षा की कॉपी में लिखा है, साथ ही गुजारिश भी की है कि उसे पास कर दिया जाए। हालांकि इस छात्र ने पास करने के साथ गुरुजी (कॉपी जांचने वाले शिक्षक-शिक्षिका) को प्यार का वास्ता देकर ये ये दुआ भी करने को कहा है कि उसका प्यार उसे मिल जाए वर्ना वो मर जाएगा।

10 रूपये का नोट

ये सिर्फ एक पेज का उत्तर है। भौतिक शास्त्र की एक कॉपी में एक परीक्षार्थी ने बाकायदा 10 रुपए का नोट भी लगा दिया है। इसे पास होने की मांग जरुर नहीं की है, लेकिन जिस तरह से उत्तर लिखे गए हैं, और नोट रखी गई है इशारा साफ है।

रासायनिक समीकरण लिखने के बदले 100 की तीन नोट

इन्होंने ने तो पास होने के लिए 100 की तीन नोट अपने आंसर शीट्स में रख दी है।

4- रासायनिक समीकरण की जगह दोहा

यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं परीक्षा की इन दिनों कॉपियां चेक की जा रही हैं. इलाहाबाद बोर्ड की केमिस्ट्र यानि रसायन के कई कॉपियां देख पक्का आप सर पकड़ लेंगे प्रश्न में समीकरण लिखने को आए थे, लेकिन परीक्षार्थी ने दोहा लिखकर पास करने की फरियाद की है। कुछ छात्रों ने हर उत्तर के बगल में बाकायदा एक ही गुजारिश बार-बार लिखी है.

पापा मुझे मार

कई छात्रों ने घर की मजबूरियों का भी जिक्र किया है. वही एक छात्र ने लिखा है कि सर मुझे पास कर देना मेरी माँ नही है. उसके बाद लिखा है कि मेरे पापा मुझे मार डालेंगे.

प्रभु दया करना…


एक छात्र ने लिखा है कि गरीब हूँ प्रभु दया करना मैं बहुत गरीब हूँ.

ऐसी ही कुछ कॉपियों की फोटो हाथ लगी हैं. जो ये बताती हैं, परीक्षा को लेकर छात्र कितने गंभीर थे, पढ़ाई का स्तर क्या है और नकल पर सख्ती का क्या असर हुआ है.

ये बहुत गज़ब का साइंटिस्ट बनेगा

मुझे पीने का शौक नहीं

क्रिकेट के शौकीन

तिकड़म दिमाग में है

ये बनेगा हिस्ट्री टीचर

You may also like

1 साल के बाद वापसी कर रहे लसिथ मलिंगा ने रचा इतिहास, तोड़ डाले एक साथ 3 विश्व रिकॉर्ड

आज हम एक ऐसे दिग्‍गज खिलाड़ी की बात