Home > अपराध > हैवानियत: हत्या के बाद भी महिला क्लर्क से किया दुष्कर्म, दो गिरफ्तार

हैवानियत: हत्या के बाद भी महिला क्लर्क से किया दुष्कर्म, दो गिरफ्तार

यमुनानगर। यहां जगाधरी के गुलाब नगर में दो पड़ोसी युवकों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी। दोनों ने पड़ाेस में रहने वाली महिला क्‍लर्क से दुष्‍कर्म किया और फिर हत्‍या कर दी। दोनों ने हत्‍या के बाद भी महिला से दुष्‍कर्म किया। इसके बाद घर में लूटपाट कर चले गए। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।हैवानियत: हत्या के बाद भी महिला क्लर्क से किया दुष्कर्म, दो गिरफ्तार

गिरफ्तार आरोपितों के नाम रिषीपाल और विनोद उर्फ मिंटू नाम है। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर चार दिन के रिमांड पर लिया है। सीआइए-वन इंचार्ज सुनील कुमार ने बताया कि वारदात का मुख्य आरोपित विनोद उर्फ मिंटू है। वीना सुबह घर से टहलने के लिए निकलती थी तो वह उस पर नजर रखता था। वीना बीडीपीओ बिलासपुर कार्यालय में क्लर्क के तौर पर तैनात थी। ऐसे में आरोपितों को उम्मीद थी कि उसके घर से रुपये व गहने मिल सकते हैं।

शराब पीने के बाद गए थे वारदात करने

पुलिस के अनुसार, 4 फरवरी की रात को वारदात से पहले दोनों ने घर की छत पर शराब पी। रात करीब एक बजे तक वे शराब पीते रहे। फिर रिषीपाल और विनोद दोनों वीना के घर के आहते में घुस गए। वे अलमारी का ताला तोड़ने के लिए घर से लोहे की रॉड भी लेकर गए थे। दीवार फांद कर विनोद अंदर गया और गेट खोलकर रिषीपाल को अंदर बुलाया। आवाज सुनकर वीना दरवाजा खोलकर बाहर आई तो उसने दोनों आरोपितों को देख लिया। वह दरवाजा बंद करने लगी तो आरोपित दरवाजे को धक्का देते हुए अंदर घुस गए।

लूट से पहले किया दुष्कर्म

दोनों घर में घुसे तो लूट की नीयत से थे, लेकिन नशे की हालत में रिषीपाल ने महिला से दुष्कर्म कर डाला। इसी दौरान मुंह पर कपड़ा होने से वीना की दम घुटने से मौत हो गई। फिर उन्होंने कानों से सोने की दोनों बालियां, पांवों से पाजेब व अलमारी तोड़ कर रुपये निकाले। उन्हें अलमारी से 1800 रुपये ही मिले। हद तो यह कि दोनों ने महिला की मौत के बाद भी उससे दुष्‍कर्म किया।

लूट व हत्या मामले में जमानत पर है विनोद

विनोद ने वर्ष 2005 में अपने दो साथियों के साथ बिलासपुर के गांव नगली में घर में घुसकर लूट के बाद हत्या कर दी थी। इस मामले में उसे उम्र कैद की सजा हुई थी। सात साल की सजा काटने के बाद वह वर्ष 2011 में हाईकोर्ट से जमानत पर बाहर आया था। इसी तरह रिषीपाल भी 2012 में थाना छप्पर व सदर जगाधरी एरिया में शराब के ठेकों पर चार बार लूट कर चुका है। सीआइए-वन इंचार्ज सुनील कुमार ने बताया कि दोनों को चार दिन के रिमांड पर लिया है। उनसे वीना का मोबाइल, लोहे की रॉड व अन्य सामान बरामद करना है। उनसे अभी कई अन्य वारदातें सुलझ सकती हैं। उनसे पूछताछ की जा रही है। 

Loading...

Check Also

बदमाशों ने सब इंस्पेक्टर रणवीर सिंह को मारी गोली, अस्पताल में हुई मौत

बदमाशों ने सब इंस्पेक्टर रणवीर सिंह को मारी गोली, अस्पताल में हुई मौत

 राजस्थान के भिवाड़ी में गुरुवार देर रात सब इंस्पेक्ट को एक बदमाश ने गोली मार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com