यहां आज है इस्लाम, कभी था हिंदू धर्म का आधिपत्य!

दक्षिण अफ्रीका में ‘धर्म की दुनिया’ बहुआयामी है। यहां लोग या तो इस्लाम को मानते हैं या ईसाई धर्म को। इस्लाम और ईसाई धर्म में अफ्रीकी लोग कई तरह की धार्मिक मान्यताओं को स्वीकार करते हैं।

यह भी पढ़े : भगवान श्रीकृष्ण द्वारा 5000 सालों पहले की गई भविष्यवाणी जो आज सच हो रही है
यहां आज है इस्लाम, कभी था हिंदू धर्म का आधिपत्य!

वर्ल्ड बुक विश्वकोष के अनुसार अफ़्रीका का सबसे बड़ा मान्य धर्म इस्लाम है। इसके बाद यहां ईसाई आते हैं। ब्रिटैनिका विश्वकोष के अनुसार यहां की कुल जनसंख्या का 45% भाग मुस्लिम और 40% ईसाई लोग हैं।
 
15% से कम लोग या तो नास्तिक हैं, या अफ़्रीकी धर्मों को मानने वाले हैं। यहां एक बहुत ही छोटा प्रतिशत हिन्दुओं, बहाई लोगों और यहूदियों को जाता है।
 
लेकिन यहां लगभग 6000 वर्ष पहले हिंदू धर्म प्रचलित था। इसके प्रमाण भी मिल चुके हैं। यहां शिवलिंग मिले, जिससे यह साबित होता है कि भगवान शिव प्रकृति के कण-कण में व्याप्त हैं।
 
यह पूरी तरह से संभव है कि आज से 6 हजार साल पहले पूर्व अफ्रीकी लोग भी हिंदू धर्म के अनुयायी होंगे। वजह साफ है क्योंकि यहां यानी दक्षिण अफ्रीका की सुद्वारा नाम की गुफा में पुरातत्वविदों को महादेव की 6 हजार वर्ष पुराना शिवलिंग मिला था, जिसे कठोर ग्रेनाइट पत्थर से बनाया गया है।
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button