सोफे पर बैठते ही हुआ अजीबो-गरीब एहसास, कवर हटाते ही पैरों तले खिसक गई जमीन

अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए बच्चों को क्या कुछ नहीं करना पड़ता है। एक बड़े से अनजान शहर में जाकर अपने रहने के लिए ऐसे घर का इंतजाम करना पड़ता है, जिसका खर्च निकालने में उन्हें ज्यादा दिक्कत न हो। इसके बाद छात्र घर में इस्तेमाल की जाने वाली कई चीजों का भी इंतजाम करना पड़ता है। लेकिन यहां कुछ लड़कों के साथ ऐसी घटना घटी की वे हैरान हो गए।सोफे पर बैठते ही हुआ अजीबो-गरीब एहसास, कवर हटाते ही पैरों तले खिसक गई जमीन

Loading...

इसी कड़ी में अमेरिका के पाल्ट्ज (Paltz) से एक ऐसा ही अजीबो-गरीब मामला सामने आया है, जिसे जानकर आपके मन में तरह-तरह के ख्याल आने लगेंगे। इस खबर को पढ़ने के बाद आपके मन में ये ख्याल जरूर आएगा कि यदि आप इन छात्रों की जगह होते तो क्या करते?

दरअसल अमेरिका के पाल्ट्ज में रह रहे स्टेट यूनिवर्सिटी के तीन छात्रों रीसे वेरखोवे, कॉली गास्टी और लारा रुस्सो ने मिलकर किराए का मकान लिया। जिसके बाद उन्होंने घर में बाकी के सामानों की व्यवस्था करनी शुरू कर दी। इसी सिलसिले में छात्रों ने एक सेकेंड हैंड सोफा भी खरीदा।

उन्होंने इस सोफे के लिए करीब 1300 रुपये खर्च किए थे, लेकिन तीनों ने कभी सपने में नहीं सोचा था कि वो पुराना सोफा उनके जीवन को पलट कर रख देगा। एक दिन तीनों दोस्त सोफे पर बैठकर टीवी देख रहे थे, तभी उनमें से एक को सोफे पर बैठने के दौरान कुछ महसूस हुआ। जिसके बाद उन्होंने सोफे की ऊपरी परत हटाकर देखा। सोफे का कवर हटते ही उन्हें एक ऐसी चीज दिखाई दी, जिसे देखते ही तीनों दोस्तों के पैरों तले जमीन खिसक गई।

सोफे के अंदर उन्हें एक पुराना-धुराना पैकेट मिला, जिसमें 1 हजार डॉलर (करीब 70 हजार रुपये) थे। पहला पैकेट मिलने के बाद उन्होंने पूरे सोफे को खंगाल डाला, जिसमें उन्हें अलग-अलग पैकेट में कुल 41 हजार डॉलर यानी 29 लाख रुपये मिले।

इतना ही नहीं छात्रों को पैसों के अलावा बैंक की डिपॉजिट स्लिप भी मिली, जिससे यह आशंका लगाई जाने लगी कि यह किसी का पैसा है जिसे वह बैंक में जमा कराना चाहता था। तीनों छात्रों ने मिलकर फैसला किया कि वे ये सभी पैसे उसके असली मालिक को लौटा देंगे। जिसके बाद वे बैंक की डिपॉजिट स्लिप की मदद से उस घर तक पहुंच गए, जिसका पता स्लिप पर लिखा हुआ था।

छात्रों को वहां एक बूढ़ी मां मिली, जिन्होंने बताया कि ये पैसा उनके पति ने बैंक में जमा कराने के लिए रखा था। उन्होंने बताया कि ये सारा पैसा उनके पति को रिटायरमेंट के समय मिला था। बूढ़ी महिला ने बताया कि उनके बच्चों ने ये सोफा बिना पूछे बेच दिया था। सारा पैसा वापस पाने के बाद बूढ़ी मां की खुशियों का ठिकाना नहीं रहा।

हालांकि, बूढ़ी महिला ने छात्रों की ईमानदारी से खुश होकर एक हजार डॉलर ईनाम के तौर पर दे दिए। छात्रों की ईमानदारी की ये प्रेरणादायक कहानी सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com