सुरिंदर सिंह के साथ मिलकर फादर एंथनी के घर से कैश लूटने की साजिश जब्त की वरना कार से रेड और रेकी

Loading...

ASI जोगिंदर सिंह व ASI राजप्रीत सिंह की मुखबिर सुरिंदर सिंह के साथ मिलकर फादर एंथनी के घर से कैश लूटने की साजिश पहले ही रची जा चुकी थी। SIT की जांच के दौरान यह तथ्य सामने आ रहे हैं। लूट के लिए तय साजिश के तहत उन्होंने पहले पटियाला के राजपुरा से कार जब्त की थी। इस मामले में पटियाला के आइजी एएस राय के पास पटियाला के आजाद नगर में रहने वाले ऋषिपाल नाम के एक शख्स ने शिकायत की है। जिसके बाद मामला SIT को सौंप दिया गया है।

फादर एंथनी के घर से कैश लूटने के लिए यह वरना कार 25 मार्च को जब्त की गई थी। कार मालिक के मुताबिक जब वो अपने दोस्त के साथ दिल्ली से वापस लौट रहे था तो राजपुरा के पास पुलिस ने नाके के बहाने उनकी कार रोकी। कार रोकने वालों ने उन्हें कार में हवाला मनी और अवैध हथियार होने की बात कहकर धमकाया। वहां से पटियाला की बजाय वह कार को खन्ना ले आए। शिकायतकर्ता के अनुसार वह लोग उसे जालंधर भी लेकर आए थे, लेकिन इसके बाद कार को जब्त कर खन्ना पुलिस स्टेशन में खड़ा कर दिया और उन्हें छोड़ दिया गया।

कार मालिक को लेकर पुलिस वाले जालंधर में कहां आए थे, इसके बारे में उन्हें याद नहीं लेकिन संभावना जताई जा रही है कि उसी दिन इस वरना कार के जरिए उन्होंने फादर एंथनी के घर रेड और उसके बाद वाया मोगा रूट से फरार होने के लिए रेकी की थी। SIT की जांच के अनुसार 29 मार्च को फादर एंथनी के घर की पहली मंजिल का कैश इसी कार के जरिए ASI जोगिंदर सिंह, ASI राजप्रीत और मुखबिर सुरिंदर वाया मोगा खन्ना लेकर गए थे लेकिन कैश उन्होंने आगे जमा नहीं कराया। इसके बाद जब फादर एंथनी 31 मार्च को छह करोड़ से ज्यादा कैश गायब होने की शिकायत की तो अगले ही दिन एक अप्रैल को कार लौटा दी गई।

SIT का शक इस बात को लेकर गहरा गया है कि दोनों ASI व मुखबिर पटियाला से ही कैश लूट की साजिश रच चुके थे और खन्ना पुलिस के जरिए उन्होंने इसे सिरे चढ़ा दिया। जब्त की गई राशि को लेकर फादर एंथनी के दावे से उनकी पोल खुल गई। बताया गया है कि दो दिन पहले पटियाला पुलिस ने इस कार को मालिक के घर से दोबारा जब्त किया है। तब कार मालिक को पता चला कि फादर एंथनी के घर से कैश लूटने में उनकी वरना कार इस्तेमाल की गई है।

ASI व कैश के करीब पहुंची SIT

सूत्रों के अनुसार सुरिंदर से पूछताछ में SIT को आरोपित ASI जोगिंदर सिंह व राजप्रीत सिंह और कैश के बारे में अहम सुराग मिले हैं। जिसके आधार पर दोनों के छुपे होने के संभावित ठिकानों को चिन्हित किया गया है। अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि आरोपितों ने कैश बांट लिया है या अभी छुपाकर ही रखा गया है। सूत्रों का यह भी कहना है कि अगले एक-दो दिन में SIT कोई बड़ा खुलासा कर सकती है।

SIT को दी गई सूचना, लिखित शिकायत का इंतजार: आइजी

इस बारे में पटियाला जोन के आइजी एएस राय ने पुष्टि की कि उनके पास यह शिकायत आई है। हालांकि उन्हें कोई लिखित शिकायत नहीं दी गई, फिर भी इस मामले की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम को इसकी सूचना दे दी गई है। उन्होंने कहा कि उक्त कार जालंधर के फादर एंथनी के घर से गायब किए गए करोड़ों रुपये के मामले में शक्की बताई जा रही है।

बुलाया है ऋषिपाल को: एसपी हुंदल

पटियाला के एसपी (डी) एचएस हुंदल ने कहा कि आज शिकायतकर्ता ऋषिपाल का फोन आया था। एक बैैंक में लूट की घटना की जांच को लेकर वह व्यस्त थे। इस कारण उसे सोमवार को बुलाया गया है। सोमवार उसके ब्यान लिए जाएंगे।

दोनों आरोपित ASI की ऐंटीसिपेटरी बेल पर सुनवाई टली

इस मामले में नामजद ASI जोगिंदर सिंह व ASI राजप्रीत सिंह द्वारा मोहाली के एडीशनल सैशन जज की कोर्ट में ऐंटीसिपेटरी बेल के लिए लगाई गई याचिका पर सुनवाई शनिवार चल गई। वकीलों की हड़ताल के कारण सुनवाई को टालना पड़ा। अब 23 अप्रैल को सुनवाई होगी। बता दें कि ASI जोगिंदर सिंह व ASI राजप्रीत सिंह के लुक आउट नोटिस जारी हो चुके हैैं।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com