सुपर कम्प्यूटर बता रहा है, कब होगी मौत!

comp_eye_smallनई दिल्ली (17 सितंबर): एक हॉस्पिटल का कम्प्यूटर इन दिनों बेहद चर्चा में है, क्योंकि यह इस बात की 96 फीसद सटीक जानकारी दे सकता है कि संबंधित व्यक्ति की मौत कब होने वाली है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक द बेथ इसराइल डीकोन्सेस मेडिकल सेंटर ने इस सिस्टम के मॉनीटर्स से अपने मरीजों को जोड़ रखा है। कहा जाता है कि मानवीय डॉक्टरों की तुलना में बीमारियों को पहचानने की इसकी क्षमता भी बेहतर है। सेंटर के डॉक्टरों की टीम ने ऐसा सुपरकम्प्यूटर विकसित किया है जो कि एक बहुत बड़ी संख्या में आंकड़ों का खजाना है।

इस परियोजना के प्रमुख डॉ. स्टीव हार्ग का कहना है कि अगर आप यहां आते हैं तो हम आपके बारे में सारी जानकारी हासिल कर सकते हैं। वे जानकारियां जो आपके वर्तमान विजिट से जुड़ी हैं और वे जो आपके पहले के विजिट्‍स से जुड़ी हैं। इनकी तुलना हम समान लक्षणों वाले अन्य रोगियों से कर सकते हैं और भविष्य में आपका कैसा इलाज होगा, इसकी भी जानकारी दे सकते हैं। इस असाधारण खोज में पहली बार ‘बिग डेटा’ सिद्धातों का प्रयोग किया गया है।

डॉ. होर्ग का कहना है कि ‘इस कृत्रिम बुद्धि से डॉक्टरों की मरीजों की देखरेख करने की क्षमता वास्तव में बहुत बढ़ जाती है। इसी आधार पर हम घोषणा कर सकते हैं कि मरीजों की मरने की सर्वाधिक संभावना कब है। अगर कम्प्यूटर कहता है कि आप मरने वाले हैं तो संभवत: अगले तीस दिनों में आपकी मृत्यु हो सकती है।

बता दें कि यह अमेरिका में पहला ऐसा अस्पताल है, जहां डॉक्टर रोजमर्रा के कामों में भी गूगल ग्लास का इस्तेमाल करते हैं। गूगल ग्लास का एक जोड़ा 1500 डॉलर (980 पौंड) की कीमत का है और फिलहाल इसका सीमित संख्या में उत्पादन होता है लेकिन इस वर्ष के बाद संभवत: इसका बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू हो जाएगा। इसकी तकनीकी उपयोगिता के कारण अमेरिका के कई अस्पतालों, चिकित्सा संस्थानों में इसका उपयोग किया जा रहा है।

 
 
 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button