सीएम योगी बोले-अयोध्या, मथुरा और काशी बदलेंगे उत्तर प्रदेश

लखनऊ । अपनी सरकार के एक साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास गिनाने को बहुत कुछ है, लेकिन उप चुनाव की हार का कसक भी। हालांकि योगी आदित्यनाथ उप चुनाव के परिणाम को बहुत महत्व न देते हुए अपनी उपलब्धियों पर ही फोकस करते हैैं। कहते हैैं-‘उत्तर प्रदेश में सांस्कृतिक धरोहरों के रूप में बड़ी संभावनाएं हैैं। अयोध्या, मथुरा और काशी को ही यदि पर्यटन के नजरिए से बढ़ाया जाए तो ये पूरे प्रदेश को बदल देंगे। मुंबई और बेंगलुरु जैसे शहरों से हमारे ये नगर आगे निकल जाएंगे।’

हिंदू से अधिक सेक्युलर कोई नहीं
अपने पांच कालिदास मार्ग स्थित आवास पर मुख्यमंत्री ने रविवार दोपहर दैनिक जागरण की संपादकीय टीम के साथ लंबी बातचीत में कहा कि सरकार की यह बड़ी उपलब्धि है कि वह उत्तर प्रदेश के प्रति धारणा बदलने में सफल हुई है। जंगलराज, अराजकता और गुंडागर्दी की पहचान खत्म हुई है। उद्यमियों के लिए माहौल बना है। वह दावा करते हैैं कि सरकार में टॉप स्तर पर भ्रष्टाचार रुका है, जिसका संदेश नीचे तक जाएगा और वहां भी भ्रष्टाचार खत्म होगा। योगी सदन में कहे गए अपने इस वाक्य पर कि ‘मैैं हिंदू हूं, ईद नहीं मनाता’ को अपनी व्यक्तिगत पहचान से जोड़ते हैैं और कहते हैैं कि मैैं आडंबर नहीं कर सकता। मैैं हर धर्म को उसके पर्व व त्योहार मनाने के लिए सुरक्षा-संरक्षा तो दे सकता हूं, लेकिन घर में टीका लगाने के बाद बाहर टोपी नहीं पहन सकता। यह मेरी आस्था का प्रश्न है। मेरा मानना है कि सेक्युलरिज्म सर्व धर्म समभाव का प्रतीक है और हिंदू से अधिक सेक्युलर कोई नहीं। 

उप चुनाव के नतीजे सबक 

गोरखपुर और फूलपुर के उप चुनाव को योगी सबक तो मानते हैैं, लेकिन साथ ही यह भी कहते हैैं कि यह जनादेश नहीं है। स्वीकार करते हैैं कि कार्यकर्ता अति आत्मविश्वास में गफलत खा गए। वह सपा-बसपा के गठबंधन को भी चुनौती नहीं मानते और कहते हैैं कि कोई दल अपने शत-प्रतिशत मतों का ट्रांसफर नहीं कर सकता। फिर अभी तो उनका नेता भी तय नहीं है। एक साल के कामकाज की उपलब्धियों को गिनाते हुए योगी आदित्यनाथ  कहते हैैं कि सरकार ने किसानों को विकास के केंद्र में रखा है। उनके लिए कई योजनाएं शुरू की गईं। इसके साथ ही यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में नकल माफिया के तंत्र को तोडऩा भी वह सरकार की सफलता में जोड़ते हैैं। योगी आदित्यनाथ इस बात से आश्वस्त हैैं कि उत्तर प्रदेश सरकार ने एक साल में ही विकास के लिए जरूरी आधार खड़ा कर दिया है। 

You may also like

इण्टरनेशनल एक्सपीरियन्स एक्सचेन्ज प्रोग्राम के तहत 28 को लखनऊ आएगा पेरू का छात्र दल

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस)