सीएम योगी ने दिए निर्देश, अब इस बड़ी समस्या को जल्द किया जाए दूर

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गरीबों को आवास के अलावा सड़क निर्माण और पेयजल की समस्या को दूर करने के लिए बुंदेलखंड में तालाबों के निर्माण एवं जीर्णाेद्धार का कार्य युद्धस्तर पर किए जाने के अधिकारियों को निर्देश दिए।

लखनऊ में बनेगा देश का सबसे बड़ा स्टार्ट-अप हब
योगी ने रात प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा), प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन तथा ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम की समीक्षा की और कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर एक बोर्ड लगाया जाए, जिसमें महत्वपूर्ण सूचनाएं तथा ग्राम प्रधान, ग्राम सचिव, रोजगार सेवक के मोबाइल नम्बर अंकित रहे। साथ ही, इसमें कराए जा रहे कार्याें की सूची और योजनाओं का विवरण भी उपलब्ध रहे।

उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तर तक कर्मियों की बॉयोमेट्रिक अटेन्डेंस सुनिश्चित की जाए। सड़कों को 15 जून के पूर्व गड्ढा मुक्त किया जाए। जहां पूर्व से हैण्डपम्प स्थापित नहीं हैं, वहां पर हैण्डपम्पों की स्थापना की जाए। पूरे प्रदेश में कहीं भी पेयजल की समस्या नहीं आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में तालाबों के निर्माण और जीर्णाेद्धार का कार्य युद्धस्तर पर किया जाए। इसके लिए विशेष योजना बनाकर हर हाल में जल की समस्या का समाधान किया जाए। रोजगार सेवकों को समय पर भुगतान किए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित हो। उन्होंने समग्र ग्राम विकास विभाग को ग्राम्य विकास विभाग के साथ विलय किए जाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2017-18 के भौतिक लक्ष्य की पूर्ति करते हुए तालाब निर्माण और उनका जीर्णोद्धार, लघु सिंचाई के साथ-साथ बुंदेलखंड क्षेत्र के लिए जल संरक्षण, जल संचयन के कार्य प्राथमिकता के स्तर पर कराए जाएं। आवासों, भूमि विकास और पशु आश्रय के कार्याें के साथ-साथ आधारभूत सुविधाओं सड़क, आंगनबाड़ी, शौचालय निर्माण आदि से सम्बन्धित कार्य भी कराए जाएं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button