Home > Mainslide > सावधान! वैज्ञानिकों ने किया बड़ा खुलासा, केरल के बाद इस राज्य में होगी भारी तबाही

सावधान! वैज्ञानिकों ने किया बड़ा खुलासा, केरल के बाद इस राज्य में होगी भारी तबाही

मानसून बाढ़ की त्रासदी से फिलहाल केरला को राहत है! संडे से बारिश मैं कमी आ गई, जन-जीवन धीरे-धीरे सामान्य होने लगा है! लेकिन, खतरा अभी टला नहीं है, अभी भी खतरा आने का संकेत मिल रहा है!

केरला में बारिश और बाढ़ की तबाही के बाद अब कर्नाटक,तमिलनाडु मे ऐसे ही खतरा मंडराने की आशंका जताया जा रहा है! वैज्ञानिकों (Scientists) ने चेतावनी जारी की है कि आने वाले दिनों में इससे भी भयानक रूप देखने को मिल सकता है!

मौसम बरसा सकता है अपना कहर

Nature Communications Journal में प्रकाशित हुई Report के अनुसार, North America, Europe, Asia के कई हिस्सों में अत्यधिक प्रलयकारी मौसम अपना कहर दिखा सकता है!ऐसा Scientists के द्वारा अनुमान लगाया जा रहा है! इसमे कितना सच्चाई है यह आने वाले दिनों में पता चलेगा!

केरल के बाद कर्नाटक की बारी

Scientists ने यह बताया है कि इंसानों द्वारा किया गया Greenhouse गैसों का उत्सर्जन पूर्व की ओर बहने वाली हवाओं में रुकावटें उत्पन्न करता है! इसके कारण गर्मी के मौसम की समय अवधि बढ़ जाती है!

इसके बाद बारिश भी जरूरत से ज्यादा होती है! Greenhouse गैसों के कारण से बढ़ रही Global warming प्रकृति के बने बनाए ढांचे को बिगाड़ रही है! Global warming के चलते मौसम चक्र में आगे आने वाले समय में गर्मी और बारिश का प्रकोप भयंकर रूप ले लेगा!

कर्नाटक में बन चुके हैं बाढ़ जैसे हालात

कर्नाटक कि कुर्ग जिले (Kodagu district) में लगातार शाम से ही बारिश हो रही है! इससे वहां बाढ़ के हालात बन चुके हैं! राज्य के CM H. D. Kumaraswamy हवाई सर्वे के माध्यम से 2 बार यहां के हालात का जानकारी ले चुके हैं! मलनाड (Malenadu) जिले में भी ऐसे ही हालात बनतेे जा रहे हैं!

दोनों जिलों में बीते 10 दिन के भीतर 12 लोगों की मौत हो चुकी है! कुर्ग जिले (Kodagu district) में ही भारी बारिश के कारण लगभग 3,500 लोग इधर-उधर फंसे हुए बताए जा रहे हैं! एेसे में यह अनुमान लगाया जा रहा है कि Scientists की यह चेतावनी सच साबित हो सकती है!

Loading...

Check Also

बनारस में कमल संदेश बाइक रैली को सीएम योगी ने देखाई हरी झंडी

बनारस में कमल संदेश बाइक रैली को सीएम योगी ने देखाई हरी झंडी…

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com