सावधान! लंबे समय तक सम्बंध न बनाने से होती हैं ये खतरनाक बीमारियां

- in 18+

सेक्स एक ऐसी चीज है जिससे हर कपल अपने रिश्ते में प्यार को बढ़ावा दे सकता है. सेक्स करने के बाद लोगों को एक सुखद आनंद की प्राप्ति होती है जो तनाव कम करने और खुशी देने के लिए काफी कारगर साबित होती है. लेकिन कई बार कपल्स काम में व्यस्त‍ होने के कारण एक-दूसरे को समय नहीं दे पाते. नतीजन, उनकी सेक्स लाइफ पर असर पड़ता है. कई बार कपल्स अपने काम में व्यस्त होने के कारण लंबे समय तक सेक्स नहीं कर पाते. ऐसे में उनकी सेक्स लाइफ को लेकर कई समस्याएं पैदा हो जाती है और भविष्य में इससे नुकसान भी उठाना पड़ जाता है. फिजिकल रिलेशन में कमी आने से स्वास्थ्य पर भी गहरा असर पड़ता है. लंबे समय तक सेक्स न करने से पुरुष जहां नपुंसक बन सकता है तो वहीं महिला में सेक्स को लेकर रुचि खत्म हो सकती है.

इरेक्टाइल डिसफंक्शन
लंबे समय तक सेक्स न करने से इरेक्टाइल डिसफंक्शन यानि शीघ्रपतन की समस्या हो जाती है. इसमें कोई व्यक्ति उत्तेजित होने के बावजूद सेक्स नहीं कर पाता है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पेनिस का ब्लड फ्लो ब्लॉक हो जाता है. अक्सर रेगुलर सेक्स न करने वाले पुरुषों को अपनी जिंदगी में जल्दी इस बीमारी का सामना करना पड़ता है.

इम्यून सिस्टम में कमजोरी
लंबे समय तक सेक्स न करने से इम्यून सिस्टम में कमजोरी आ जाती है. इससे बीमार होने का खतरा बढ़ सकता है. वहीं रेगुलर सेक्स से इस समस्या में कमी लाई जा सकती है.

कामेच्छा में कमी
लंबे समय तक सेक्स न करने का एक सबसे बड़ा डर ये भी है कि यदि इससे काम वासना में कमी आनी शुरू हो जाती है. इसके कारण संभोग को लेकर उत्साह घटता जाता है. इस स्थिति में एक समय ऐसा भी आ सकता है जब लोगों को सेक्स करने के बाद भी संतुष्टि या सुख का एहसास न हो.

तनाव
जो लोग रेगुलर सेक्स नहीं करते हैं उनमें तनाव ज्यादा देखा जाता है. वहीं सेक्स तनाव को खत्म करता है. इसके पीछे वैज्ञानिक कारण ये है कि संभोग के दौरान फील-गुड हार्मोन रिलीज होता है जिससे हमारे मन से तनाव निकल जाता है. इसलिए यदि आप सेक्स नहीं करते हैं तो ये हार्मोन रिलीज नहीं होगा और तानव को मैनेज करना मुश्किल हो सकता है.

हार्ट अटैक
रेगुलर सेक्स करने वाले लोगों को हार्ट अटैक का खतरा कम रहता है। वहीं जो लोग लंबे समय तक सेक्स नहीं करते हैं उनमें हार्ट अटैक और दिल संबंधी बीमारियां होने का खतरा ज्यादा रहता है.

You may also like

महिलाओं में क्यों खत्म हो रहा सेक्स से लगाव…

स्टडी ऑफ ब्रिटिश सेक्शुअल एटीट्यूड्स का कहना है