सावधान! एंड्रॉयड स्मार्टफोन पर मंडराता जूडी वायरस का ख़तरा

- in गैजेट

साइबर सिक्योरिटी के लिहाज़ से मई का महीना काफी ख़तरनाक साबित हो रहा है. कुछ दिन पहले ही रैंसमवेयर वायरस वाना क्राई ने लाखों इंटरनेट यूजर्स को अपना निशाना बनाया था.

सावधान! एंड्रॉयड स्मार्टफोन पर मंडराता जूडी वायरस का ख़तरा
इसके बाद अब एंड्रॉयड यूजर्स के लिए जूडी वायरस नया ख़तरा बनकर उभरा है. जानिए क्या है जूडी वायरस और कैसे उससे जुड़ी 41 ऐप्स आपके स्मार्टफोन को नुकसान पहुंचा सकती है.

ये भी पढ़े: फाइबर डिफ्यूज़र और iDrive कंट्रोलर से लैस होगी BMW 8 सीरीज

कैसे पहुंचता है नुकसान

ये एक ऐसा सॉफ्टवेयर है, जो आपके डिवाइस से फर्ज़ी क्लिक्स करवाकर पैसा कमाता है. 41 मोबाइल ऐप्लीकेशन ऐसी हैं, जो इस वायरस को फैलाने में मदद कर रही हैं. इन सभी ऐप्लीकेशन में जूडी शेफ एक कॉमन शब्द है.

कैसे फैला ये वायरस
जूडी वायरस फैलाने वाली सभी 41 ऐप्लीकेशन को कोरियाई कंपनी ई-स्टूडियो ने बनाया है. इनके अलावा कई और डवलपर्स ऐसे भी हैं, जिनके ज़रिए ये वायरस फैल रहा है. द चेकिंग प्वाइंट ब्लॉग के मुताबिक ये ऐप्लीकेशन 1.85 करोड़ मोबाइल डिवाइस में डाउनलोड हैं.

3.65 करोड़ स्मार्टफोन पर ख़तरा
रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के करीब 3.65 करोड़ एंड्रॉयड डिवाइस इस वायरस से प्रभावित हो सकते हैं. इन इनफेक्टिड ऐप्लीकेशन में कुछ ऐसी भी हैं, जो गूगल प्ले पर मौजूद हैं.

एक्सपर्ट के मुताबिक डाउनलोड होने के बाद ये ऐप्लीकेशन अपने आप आपकी डिवाइस और एडवेयर सर्वर के बीच कनेक्शन स्थापित कर लेती हैं. एक बार कनेक्शन होने के बाद आपकी डिवाइस अपने आप ब्राउज़र से वेब पेज पर क्लिक जनरेट होने लगता है.

कैसे सुरक्षित रखें अपना स्मार्टफोन
चेक प्वाइंट ब्लॉग के मुताबिक गूगल इन इनफेक्टिड और वायरस वाली ऐप्लीकेशन को हटा चुका है. ऐसे वायरसों से बचने के लिए गूगल ने बाउंसर प्रोक्टेशन को अपडेट भी किया है.

इसके अलावा ऐसी वायरस वाली ऐप्लीकेशंस की लिस्ट जारी की है, जो स्मार्टफोन के लिए ख़तरनाक है. इस लिस्ट के ज़रिए आप ऐसे वायरस से बच सकते हैं. हालांकि अभी तक ये साबित नहीं हो पाया है कि ये वायरस आपके मोबाइल से डाटा चोरी करने में सक्षम है.

You may also like

वोडाफोन का बड़ा धमाका: अब इस प्लान में यूजर्स को मिलेगा रोजाना 2.53 रुपए में 1GB डाटा

ग्राहकों को सस्ते डाटा प्लान उपलब्ध कराने में