साल 2018 में गुलजार रह सकता है IPO का बाजार

- in कारोबार

इनीशियल पब्लिक ऑफर (आईपीओ) के लिहाज से साल 2017 काफी बेहतर रहा था, वहीं साल 2018 में भी आईपीओ मार्केट के गुलजार रहने की उम्मीद है। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस साल आईपीओ के जरिए बाजार से 35,000 करोड़ रुपये जुटाए जा सकते हैं। ऐसा अनुमान एक रिपोर्ट में लगाया गया है। गौरतलब है कि बीते दिन इंडियन रेलवे का पहला आईपीओ रिट्स सब्सक्रिप्शन के लिए खुला था। वहीं रेलवे आगे भी अपने दो अन्य आईपीओ को लिस्ट कराने की तैयारी में है।

ईवाई की रिपोर्ट में कहा गया, “अर्थव्यवस्था के नरम रूख के चलते साल 2018 में आईपीओ बाजार के बेहतर रहने की उम्मीद है। इस साल जिन आईपीओ को लॉन्च किया जाना है वो बेहतर हैं क्योंकि दर्जनों कंपनियां इस साल अपना आईपीओ पेश करने की योजना बना रही हैं, जिससे इस साल 35,000 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है।”

इस रिपोर्ट में आगे यह भी कहा गया कि यह ताजा फंड उगाही (फंड रेजिंग) पीई समर्थित है। इसमें कहा गया है कि पीई समर्थित आईपीओ ने बिना पीई समर्थन वाले आईपीओ के मुकाबले बीते कुछ वर्षों में निरंतर बेहतर प्रदर्शन किया है। सेक्टर के परिदृश्य से देखा जाए तो, वित्तीय सेवाओं में पीई समर्थित आईपीओ ने सेक्टरल इंडेक्स से बेहतर प्रदर्शन किया है। वहीं अगर प्रदर्शन के लिहाज से देखा जाए तो समयावधि के दौरान उनके प्रस्ताव मूल्य की तुलना में प्रमुख इंडेक्स के साथ साथ औसत रुप से पीई समर्थित आईपीओ ने बिना पीई समर्थन वाले आईपीओ से बेहतर प्रदर्शन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

5 राज्यों के वित्त मंत्रियों की बैठक में पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर होगा ये बड़ा ऐलान

 पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच आम आदमी को